Latest News Site

News

बिहार : भागलपुर मे डेंगू ने पसारे  पांव, मरीजों का आंकड़ा पहुंचा सौ के पार

September 22
08:16 2019

भागलपुर, 22 सितंबर ।  भागलपुर मे डेंगू अपने  पांव पसार चुका  है। हर रोज छह से सात डेंगू के संदिग्ध मरीज (एनएस1एजी, आईजीजी-आईजीएम पॉजीटिव) इलाज के लिए मायागंज अस्पताल के मेडिसिन वार्ड में भर्ती हो रहे हैं। फिलहाल मायागंज अस्पताल में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा सौ पार कर चुका है।  सदर अस्पताल में दर्जन भर से अधिक मरीजों की  जांच की  गयी । इनमें छह को डेंगू निकला।

रोजाना डेंगू के मरीजों की बढ़ती संख्या और सरकारी अस्पताल में बेड की कमी  से मरीजों का इलाज जमीन पर लिटा कर किया जा रहा है। अस्पताल में इतनी जगह नहीं है कि सभी को बेड तुरंत उपलब्ध करा दिया जाये। हालांकि मरीजों के लिए वार्ड में बेहतर सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। प्रत्येक बेड पर मच्छरदानी की व्यवस्था की गयी है।

जवाहर लाल नेहरू मेडिकल काॅलेज अस्पताल में संदिग्ध मरीजों की संख्या 100 पार हो गयी है. जबकि पॉजिटिव मरीजों की संख्या 50 से ज्यादा है। सदर अस्पाताल में दो दिनों  में 11 मरीजों की जांच की गयी  इनमें छह मरीज को डेंगू था। जांच के बाद मरीज सीधे मायागंज अस्पताल के साथ -साथ निजी क्लिनिक चले गये। डॉक्टर ने बताया जरा सा शक होने पर मरीज की  डेंगू की जांच करायी  जा रही  है।

भय में आकर पॉजीटिव रोगी जांच रिपोर्ट लेकर सीधे निजी क्लिनिक में इलाज कराने चले जा रहे हैं जबकि ऐसे मरीजों  को यहां अस्पताल में बेहतर दवा देकर  आसानी से ठीक किया जा सकता है। मायागंज अस्पताल के  भानूवती वार्ड में डेंगू के मरीजों के लिए सुविधा उपलब्ध है।  प्रत्येक बेड में मच्छरदानी उपलब्ध है। मरीजों ने बताया कि इलाज में लापरवाही अभी तक नहीं है।

समय पर डॉक्टर आते हैं। कई मरीज ठीक होकर वापस अपने घर जा चुके हैं। मेडिसिन विभाग में भी मरीजों के लिए व्यवस्था की गयी है। मच्छरदानी के साथ -साथ अन्य सुविधाएं  उपलब्ध हैं । मायागंज अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने बताया कि चार से 10 सितंबर के बीच इस  अस्पताल के डेंगू वार्ड में कुल 56 मरीज भर्ती हुए। इनमें से 41 भागलपुर जिले के हैं।

यानी हर रोज चार से अधिक भागलपुर वासियों को डेंगू अपना शिकार बना रहा है। इन 41 में से 32 मरीज शहर के जीरोमाइल, बरारी, भीखनपुर, लालकोठी, नाथनगर, अलीगंज, आदमपुर, वार्ड नंबर 14, 16 व 26 समेत अन्य मोहल्ले के हैं। बाकी  15 में से बांका जिले से छह, झारखंड से चार, किशनगंज, मधेपुरा से पांच मरीजों को डेंगू होने की पुष्टि हुई।

ग्रामीण क्षेत्रों में सुल्तानगंज, जगदीशपुर, पीरपैंती व नवगछिया से भी डेंगू के मरीज आ रहे हैं। मायागंज अस्पताल के अधीक्षक ने बताया कि अब डेंगू के ऐसे मरीज जिनके शरीर के किसी हिस्से से रक्तश्राव हो, तीव्र बुखार, अचानक शरीर का  तापमान  गिरे या फिर तेजी से प्लेटलेट्स में कमी हो तो उन्हें ही भर्ती किया जायेगा। इसके साथ ही अस्पताल में ऐसे डेंगू के मरीज जिन्हें बीते 24 घंटे में बुखार न हुआ हो, सामान्य बीपी हो, पेशाब ठीक से हो रहा हो, प्लेटलेट काउंट 50 हजार से अधिक हो और सांस लेने में तकलीफ न हो तो ऐसे मरीज को तत्काल अस्पताल से छुट्टी दे दी जायेगी।
(हि.स.)

[slick-carousel-slider design="design-6" centermode="true" slidestoshow="3"]

About Author

admin_news

admin_news

Related Articles

0 Comments

No Comments Yet!

There are no comments at the moment, do you want to add one?

Write a comment

Only registered users can comment.

Sponsored Ad

SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS

LATEST ARTICLES

    Daughters of St. Anne’s set a marvellous example to serve the Humanity on Birthday Occasion of Mother Mary Bernadette

Daughters of St. Anne’s set a marvellous example to serve the Humanity on Birthday Occasion of Mother Mary Bernadette

Read Full Article