Latest News Site

News

प्रेसिडेंसी सेंट्रल जेल में कुख्यात कैदी पर धारदार हथियार से हमला

August 18
17:43 2019
कोलकाता, 18 अगस्त (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की जेलों की सुरक्षा अमूमन सवालों के घेरे में रहती है। ताजा घटना प्रेसिडेंसी जेल की है। यहां एक विचाराधीन कुख्यात अपराधी पर अन्य कैदियों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया है। पीड़ित कैदी का नाम श्रीधर दास है। वह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास वाले क्षेत्र टालीगंज इलाके का कुख्यात अपराधी है। कुछ महीने पहले उसे एक मारपीट की घटना में गिरफ्तार किया गया था। न्यायालय में उसके खिलाफ सुनवाई चल रही है। एक सप्ताह पहले ही उसे प्रेसिडेंसी सुधार गृह में लाया गया था। रविवार शाम के समय नियमानुसार जेल परिसर में मौजूद खाली जगह पर सभी कैदी एकत्रित हुए थे। उसी समय श्रीधर के साथ राजा दत्त और शम्भू नाम के दो कैदी उलझ गए। विवाद होते-होते मामला हाथापाई पर पहुंच गया और दोनों ने मिलकर धारदार हथियार से श्रीधर पर ताबड़तोड़ हमला शुरू कर दिया। कैदियों के चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर सुरक्षाकर्मी तुरंत वहां पहुंचे और श्रीधर को उन लोगों से छुड़ाया गया। उसे एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है। बताया गया है कि उसके चेहरे पर भी धारदार हथियार से हमले किए गए हैं। आरोप है कि श्रीधर ने धारदार हथियार से उन दोनों पर हमला किया था । लेकिन सवाल है कि कैदियों के पास धारदार हथियार जेल के अंदर आए कैसे? इस बारे में कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने के लिए तैयार नहीं है। वैसे जेल सूत्रों का कहना है कि कई बार चम्मच या किसी अन्य बर्तन को कैदी धारदार हथियार बना लेते हैं। कुछ सालों पहले इसी जेल में अपहरण मामले के आरोपित हैप्पी सिंह की हत्या कर दी गई थी।
[slick-carousel-slider design="design-6" centermode="true" slidestoshow="3"]

About Author

admin_news

admin_news

Related Articles

0 Comments

No Comments Yet!

There are no comments at the moment, do you want to add one?

Write a comment

Only registered users can comment.

Sponsored Ad

SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS SPONSORED ADS

LATEST ARTICLES

    Delhi asks schools to schedule textbook distribution

Delhi asks schools to schedule textbook distribution

Read Full Article