Get Latest News In English And Hindi – Insightonlinenews

News

बंगाल : जुलाई से बंद हो जाएंगे दार्जिलिंग के 350 से अधिक होटल

June 03
09:23 2020

कोलकाता, 03 जून । जानलेवा महामारी कोरोना की वजह से फैले दहशत के कारण पश्चिम बंगाल के प्रमुख पर्यटन केंद्रों में से एक दार्जिलिंग के होटल उद्योग पर बड़ा असर पड़ा है। यहां के 350 से अधिक होटल, दार्जिलिंग होटल ओनर्स एसोसिएशन (डीएचओए) के बैनर तले, जुलाई से बंद करने का फैसला किया है। इस कदम से 10 हज़ार से अधिक श्रमिकों के बेरोजगार होने की संभावना है।

डीएचओ के महासचिव विजय खन्ना ने कहा, “कोरोनोवायरस की वजह से पर्यटन पर व्यापक असर पड़ा है और आय के साधन खत्म हो गए हैं। हमारा प्राथमिक पर्यटन सीजन खत्म हो चुका है और हमें उम्मीद नहीं है कि देश में मौजूदा स्थिति में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इसलिए हमने जुलाई से परिचालन बंद करने का फैसला किया है।

” प्रत्येक होटल में 60 से 20 के बीच कार्यबल वाले डीएचओए के बैनर तले 350 से अधिक पंजीकृत होटल हैं। उन्होंने कहा कि, “हम नहीं जानते कि पर्यटक कब आएंगे। दूसरे, अगर हम काम करते हैं तो हमें श्रमिकों को शामिल करना होगा। हालांकि, हमें यह आशंका है कि किसी भी आय स्रोत के बिना, हम उन्हें भुगतान करने में सक्षम नहीं होंगे।” अप्रैल, मई और जून यहां पर्यटन का मौसम है जो पूरे वर्ष के लिए आय का स्रोत होता है। पूजा के दौरान लगभग 10 दिनों का एक छोटा पर्यटन सीजन होता है, उसके बाद सर्दियों की आमद होती है। हालांकि, होटल मालिकों के संघ ने कहा कि उनके श्रमिकों के वेतन का भुगतान जून तक किया जाएगा।

डीएचओए के अनुसार, कुछ श्रमिकों ने पूरे वेतन का भुगतान करने के लिए मालिकों की अनिच्छा के बारे में श्रम विभाग से शिकायत की थी। खन्ना ने कहा, “शुरुआत में हम लॉकडाउन के बाद अप्रैल और मई के लिए उनके वेतन का एक प्रतिशत का भुगतान करना चाहते थे। हालांकि, हमारे कुछ कार्यकर्ताओं ने शिकायत की। हमने जून तक उनके वेतन का 35 फीसदी देने का फैसला किया। इसके अलावा, हमारे लिए उन्हें भुगतान करना संभव नहीं है।” हालांकि, एसोसिएशन ने कहा कि वे श्रमिकों के लिए काम करने के तरीकों की तलाश में रहेंगे।

(हि.स.)

About Author

Prashant Kumar

Prashant Kumar

Related Articles

0 Comments

No Comments Yet!

There are no comments at the moment, do you want to add one?

Write a comment

Only registered users can comment.

Sponsored Ad

LATEST ARTICLES

    भारत-नेपाल का विकास सद्भाव एवं आपसी प्रेम से ही सम्भवः सतपाल महाराज

भारत-नेपाल का विकास सद्भाव एवं आपसी प्रेम से ही सम्भवः सतपाल महाराज

Read Full Article