Get Latest News In English And Hindi – Insightonlinenews

News

रक्षा खरीद परिषद ने 38 हजार करोड रूपये के सौदों को मंजूरी दी

July 02
20:35 2020
रक्षा खरीद परिषद ने 38 हजार करोड रूपये के सौदों को मंजूरी दी 1

नयी दिल्ली 02 जुलाई चीन के साथ तनातनी के बीच सरकार ने तीनों सेनाओं को जरूरी हथियारों और लड़ाकू विमानों से लैस करने के लिए 38 हजार रूपये से अधिक के रक्षा खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में आज यहां हुई रक्षा खरीद परिषद की बैठक में सशस्त्र सेनाओं के लिए कुल 38 हजार 900 करोड़ रूपये की रक्षा खरीद के सौदों को हरी झंडी दिखायी गयी। वायु सेना के लिए 21 मिग -29 विमानों की खरीद के साथ साथ मौजूदा 59 मिग-29 विमानों को उन्नत बनाने की मंजूरी भी दी गयी है। इसके अलावा 12 सुखोई 30 विमान भी खरीदे जायेंगे । मिग-29 की रूस से खरीद और विमानों को उन्नत बनाने में 7418 करोड रूपये की लागत आयेगी जबकि 30 सुखोई विमान एचएएल से खरीदे जायेंगे जिनपर 10730 करोड़ रूपये की लागत आयेगी।

सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आत्म निर्भर भारत को बढावा देने के लिए आज के कुल सौदों में से 31 हजार 130 करोड़ रूपये की खरीद देश के रक्षा उद्योगों से की जायेगी। खरीदे जाने वाले साजो सामान का डिजायन और विकास देश में ही किया जायेगा और इनमें छोटी औद्योगिक इकाईयों की प्रमुख भूमिका होगी। इन उपकरणों में से कुछ में लागत के 80 प्रतिशत कलपुर्जे स्वदेशी होंगे। ये साजो सामान देश के प्रमुख रक्षा अनुसंधान संगठन डीआरडीओ द्वारा हस्तांतरित प्रौद्योगिकी पर आधारित होंगे।

इन उपकरणों में सेना के लिए पिनाका राकेट लांचर , बीएमपी के लिए अस्त्र शस्त्र और सॉफ्टवेयर आधारित रेडियो तथा नौसेना और वायुसेना के लिए लंबी दूरी तक मार करने वाली क्रूज मिसाइल प्रणाली शामिल है। इन पर 20 हजार 400 करोड़ रूपये की लागत आने की संभावना है।

नयी मिसाइल प्रणाली की खरीद से तीनों सेनाओं की मारक क्षमता बढेगी। पिनाका की खरीद से सेना में अतिरिक्त रेजिमेंट खड़ी की जा सकेगी। नयी मिसाइल प्रणाली की मारक क्षमता 1000 किलोमीटर होगी और इससे वायु सेना तथा नौसेना की प्रहार करने की शक्ति बढेगी।

वायु सेना की लड़ाकू विमानों की जरूरत को पूरा करने के लिए रक्षा खरीद परिषद ने 21 मिग -29 विमानों की खरीद और मौजूदा 59 मिग-29 विमानों को उन्नत बनाने की मंजूरी भी दी है।

इसके अलावा 12 सुखोई 30 विमान भी खरीदे जायेंगे ।



वार्ता

About Author

Bhusan kumar

Bhusan kumar

Related Articles

0 Comments

No Comments Yet!

There are no comments at the moment, do you want to add one?

Write a comment

Only registered users can comment.

Sponsored Ad


LATEST ARTICLES

    भारतीय एवं विश्व इतिहास में 04 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 04 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

Read Full Article