संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन ने कोरोना काल में भी 75 यूनिट रक्तदान की सेवा दी

कोरोना काल में भी रक्तदान शिविर लगाकर देश में स्थापित 300 से अधिक शाखाओं में रक्तदान की सेवा दे रहा है निरंकारी मिशन

रांची शहर में रिम्स और सदर अस्पताल के संयुक्त सहयोग से आज दिनांक 31 मई 2020 को 75 यूनिट रक्तदान की सेवा दी गई

संत निरंकारी मंडल रांची शाखा (रांची, रातू और नामकुम) के तत्वधान में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन द्वारा रांची में निरंकारी अनुयायीयों एवं उनके सहयोगियों द्वारा 75 यूनिट रक्तदान दिया गया जो एक आदर्श दृष्टांत है।

रक्तदान शिविर पूरे विश्व में निरंकारी मिशन बड़े पैमाने पर आयोजन करता है और निरंकारी मिशन ने ही इस सेवा के कार्य में विश्व स्तरीय पहचान बनाई है उसकी रांची शाखा ने आज कोरोना के संकट काल में भी यह सेवा समर्पण भाव से की।

सर्वविदित है कि कोरोना संकट काल में रांची के अस्पतालों में स्थापित ब्लड बैंकों में खून की काफी कमी आई है और संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के सेवादारों के सहयोग से संत निरंकारी मिशन के सिद्धांत मानव एकता को सर्वपरी रखते हुए निरंकारी सत्संग भवन, बुद्ध विहार अरगोड़ा रांची में रक्तदान शिविर लगाकर 75 यूनिट ब्लड की सेवा का महत्वपूर्ण योगदान किया।

संत निरंकारी मिशन रांची जोन ब्रांच के जोनल इंचार्ज श्री अनिल कुमार सूद की अध्यक्षता में इस शिविर का आयोजन किया गया और इस शिविर का माननीय झारखंड के मंत्री श्री आलमगीर आलम ने शुभारंभ किया। श्री आलम ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि मानव की सेवा ही असली धर्म है और यह बेमिशाल पहचान संत निरंकारी मिशन ने इस कोरोना काल के संकट के समय में बनाई।

संत निरंकारी मिशन के अनुयायीयों एवं उनके सहयोगियों का इस कोरोना संकट काल में भी उत्साह रक्तदान के प्रति देखते ही बनता था।

निरंकारी मिशन की युक्ति रक्तनालियों में नहीं नाड़ियों में बहना चाहिए और रक्तदान महादान के प्रति निरंकारी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की प्रेरणा से पूरे विश्व में यह सेवा दी जा रही है और उसी की कड़ी में रांची जोन द्वारा जिसमें रातू, नामकुम और रांची के महात्माओं ने मिलकर संयुक्त रूप से 75 यूनिट रक्तदान की सेवा आज दिनांक 31 मई दिन रविवार की। इस शिविर की सेवा में राजकुमार किरार, प्रभात रंजन, विशाल कुमार, चम्पा भाटिया ने अपने सहयोगियों के साथ तन-मन-धन से सद्गुरु के अभियान को गति देने में योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *