NewsHindiNationalPolitics

बंगाल की सात लोकसभा सीटों पर 20 मई को 1.25 करोड़ मतदाता मतदान करेंगे

कोलकाता, 16 मई : पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के पांचवे चरण में सात सीटों पर होने वाले मतदान में 1.25 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

पांचवें चरण में सात संसदीय क्षेत्रों में 88 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इससे पहले चौथे चरण में 13 मई काे छिटपुट हिंसा के बीच 80 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ था। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि 20 मई को 88 उम्मीदवारों में से सात विजेताओं का चुनाव करना हैं।

जिन संसदीय क्षेत्रों में 20 मई को मतदान होना है, उनमें बंगाण (एससी), बैरकपुर, हावड़ा, उलुबेरिया, सेरामपुर, हुगली और आरामबाग शामिल हैं। ये संसदीय क्षेत्र राज्य के चार जिलों में फैले हुए हैं। इन क्षेत्रों में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और मुख्य विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच है। गौरतलब है कि 2019 के चुनाव में मतदाताओं ने वामपंथियों को पूरी तरह से दरकिनार कर दिया था और कांग्रेस केवल दो सीटों मुर्शिदाबाद और मालदा पर जीत दर्ज करने में कामयाब हुयी थी। वर्ष 2019 में तृणमूल 22 और भाजपा 18 सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हुयी थी।

इस बार मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व वाले वाम दलों और कांग्रेस के बीच गठबंधन है। औद्योगिक नगरी बैरकपुर में भाजपा के मौजूदा सांसद अर्जुन सिंह का मुकाबला राज्य के सिंचाई मंत्री एवं तृणमूल उम्मीदवार पार्थ भौमिक और माकपा के देबदुत घोष के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। सत्तारूढ़ तृणमूल द्वारा पांच साल पहले टिकट देने से इनकार करने के बाद श्री सिंह ने भाजपा का दामन थाम लिया था और 2019 के चुनाव में जीत हासिल की।

उत्तर 24 परगना बनगांव (एससी) में भाजपा के मौजूदा सांसद शांतनु ठाकुर का मुकाबला तृणमूल के बिस्वजीत दास से है। वर्ष 2019 में श्री ठाकुर ने अपनी चाची तृणमूल की ममता ठाकुर को हराकर बंगाण निर्वाचन क्षेत्र जीता था, जहां मटुआ समुदाय नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (सीएए) का प्रमुख मुद्दा है, जिसके लिए भाजपा का शीर्ष नेतृत्व ढोल पीट रहे हैं। इसके अलावा औद्योगिक नगरी हावड़ा पूर्व भारतीय फुटबॉल स्टार प्रसून बनर्जी को भाजपा के रथिन चक्रवर्ती के खिलाफ खड़ा किया गया है। श्री बनर्जी पिछले दो लोकसभा चुनावों से यहां का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

उलुबेरिया में तृणमूल की सजदा अहमद का मुकाबला भाजपा के अरुण उदय पाल चौधरी और कांग्रेस के अज़हर मोलिक से है। हुगली के सेरामपुर में तीन बार विधायक रह चुके तृणमूल के कल्याण बनर्जी का मुकाबला भाजपा के कबीर शंकर बोस और माकपा की दिप्सिता धर के बीच है। हुगली लोकसभा सीट पर भाजपा की मौजूदा सांसद एवं पूर्व सिनेस्टार लॉकेट चटर्जी का मुकाबला तृणमूल नेता एवं टीवी एंकर रचना बनर्जी और माकपा के मनदीप घोष से है।

वर्ष 2019 में इस सीट से भाजपा के लॉकेट चटर्जी ने 6,71,448 वोटों के साथ जीत दर्ज की थी। वहीं, तृणमूल कांग्रेस की डॉ. रत्ना डे 5,98,086 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं, जबकि माकपा के प्रदीप साहा 1,21,588 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *