हिमाचल में भूस्खलन से दो एनएच सहित 81 सड़कें बंद, चम्बा में बादल फटा

शिमला, 08 अगस्त । हिमाचल प्रदेश में मानसून का कहर जारी है। राज्य के विभिन्न भागों में हो रही व्यापक वर्षा से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। चम्बा जिला की सलूणी तहसील के कंधबारा में बीती मध्यरात्रि बादल फटने के बाद आई बाढ़ से छह मकानों को नुकसान पहुंचा, वहीं एक व्यक्ति मलबे में दब गया। उसे सुरक्षित निकालने के प्रयास किये जा रहे हैं। चम्बा सहित अन्य जिलों में जगह-जगह भूस्खलन से सड़कें बाधित होने से लोगों को आवागमन में कठिनाई आ रही है।

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की रिपोर्ट के अनुसार सोमवार सुबह भूस्खलन से दो नेशनल हाइवे और 79 सड़कें बंद रहीं। किन्नौर जिला में भावनगर के समीप नेशनल हाइवे-पांच और लाहौल स्पीति जिला में छत्रु के समीप एनएच 505 बाधित हो गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक चम्बा जिला में सबसे ज्यादा 41 सड़कें बंद हैं। कुल्लू में 26, मंडी में आठ, सोलन में तीन और कांगड़ा, किन्नौर व लाहौल-स्पीति में एक-एक सड़क अवरुद्ध है। भारी वर्षा से 79 ट्रांसफार्मरों के ठप पड़ने से बिजली आपूर्ति भी ठप है। चम्बा जिला में 70, कुल्लू में सात और मंडी में दो ट्रांसफार्मर बंद हैं। चम्बा में 13 पेयजल परियोजनाएं भी बंद हैं।

मौसम विभाग ने अगले दो दिन प्रदेश में भारी वर्षा की चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट जारी किया है। रविवार रात से सोमवार सुबह तक जुब्बड़हट्टी में 24, धर्मशाला में 13 और कसौली में 11 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.