Akhilesh Yadav : झांसी के लोग ना आए भाजपा के झांसे में : अखिलेश

झांसी, 03 दिसम्बर । बुंदेलखंड में अपने दूसरे चरण के विजय रथ यात्रा के लिए निकले पूर्व मुख्यमंत्री व सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश की भाजपा सरकार को जमकर कोसा। योगी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि झांसी के लोगों को भाजपा के झांसे में नहीं आना चाहिए। वह विजय रथ यात्रा को झांसी से मोठ ले जाने के ठीक पहले एक स्थानीय होटल में पत्रकारों से मुखातिब हो रहे थे।

उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने लोगों को झांसा देकर बुन्देलखण्ड की पूरी 19 विधानसभा में सभी विधायक अपने बनाए। लोकसभा में सारे सांसद भी अपने बनाए, लेकिन बुंदेलखंड के लिए कुछ नहीं किया। अब लोग भी इस बार उनका एक भी विधायक नहीं बनने देंगे। 19 की संख्या 0 में परिवर्तित हो जाएगी। बुंदेलखंड से भाजपा के लिए दरवाजा बंद कर दिया जाएगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के समय संकट में नौजवान और व्यापारियों समेत हर वर्ग को भाजपा ने दुखी किया है। उन्होंने कहा कि लोग पैदल घर पहुंचे। एक गर्भवती महिला को सड़क पर अपने बच्चे को जन्म देना पड़ा था। लोग एक-एक हफ्ते तक भूखे प्यासे पड़े रहे। जब लोगों का आक्रोश भड़का और बैरिकेड तोड़कर वह निकल गए। तब अपने घर पहुंच सके। सरकार ने लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया। बहुत सारे मजदूरों की जान चली गई। उन सब मजदूरों को एक-एक लाख देने का काम समाजवादियों ने किया।

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि परिवार वालों का दुख केवल परिवार वाले लोग ही समझ सकते हैं। जिनका परिवार में कोई हो ही नहीं वह भला लोगों का दुख क्या जानें? उन्होंने कहा यह सरकार लाइन लगाती है। झांसी वाले लोग भाजपा के बहकावे में न आएं। उनके झांसे में आकर अबकी बार उनकी सरकार कदापि न बनवाएं।

कहा कि जिस प्रकार महारानी लक्ष्मीबाई ने अंग्रेजों को भारत से खदेड़ने का कार्य किया था उसी प्रकार इस बार झांसी की जनता भाजपा को खदेड़ देने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा का हाल तो अंग्रेजों से भी बुरा है। किसानों को जीप से कुचल दिया, क्या उन आरोपों पर कोई कार्यवाही अभी तक हुई है।

उन्होंने कहा कि उल्टे भाजपा उन्हें बचाने के लिए प्रयास कर रही है। नौजवानों की बेरोजगारी दूर करने के लिए लखनऊ में बड़े-बड़े आयोजन किए गए। मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति तक शामिल हुए। यहां तक कि चंद रोज पहले झांसी पहुंचकर प्रधानमंत्री ने बुंदेलखंड से मिसाइल बनाने का सपना तक दिखा दिया। लैपटॉप, मोबाइल और टेबलेट बांटने की बात भी कर रहे हैं। यह सब चुनाव का चकमा है। यदि इन्होंने लैपटॉप,मोबाइल या टेबलेट दे दिया होता तो लॉकडाउन में परेशानी के समय में लोगों को परेशान न होना पड़ता। उन्होंने कहा कि बाबा तो टेबलेट चलाना भी नहीं जानते, लेकिन चुनाव आते ही तमाम प्रकार की टेबलेट दे रहे हैं। अब यह कौन सी टेबलेट किसको देंगे आपको पता करना होगा। पूरे प्रदेश में भाजपा ने पुलिस के माध्यम से अत्याचार करवाया।

प्रदेश में सर्वाधिक कस्टोडियल डेथ हुई है। अब इस सरकार का सफाया होगा। जिन योजनाओं का हमारे चाचा ने उद्घाटन किया था। भाजपाइयों ने तो उसका भी उद्घाटन कर दिया। इन्होंने केवल एक ही काम जनता के लिए किया है और वह है बिजली का बिल बढ़ाना। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि भारत सरकार के आंकड़ों में यह बताया जाना चाहिए कि महिलाओं पर अत्याचार कहां सर्वाधिक है। यह केवल उत्तर प्रदेश ही है, जहां पर एक आईपीएस फरार है तो दूसरी ओर एक आईपीएस दूसरे आईपीएस पर रिश्वतखोरी का इल्जाम लगा रहा है। पीट-पीटकर व्यापारी की हत्या कर दी जाती है और आपको भी याद होगा कि आपके जिले में भी एक फर्जी एनकाउंटर हुआ था। 100 नंबर व्यवस्था को भाजपा सरकार ने चौपट कर दिया।

पत्रकारों को आगाह करते हुए कहा कि अगर आप भी इनके भ्रष्टाचार की इबारत लिखोगे तो जेल जाओगे। बरुआसागर के एक परिवार के व्यक्ति को पीट-पीटकर पुलिस ने मरणासन्न कर दिया। बाद में उसकी मौत हो गई। उन्होंने कहा कि आज तक उसकी एफआईआर दर्ज नहीं हुई और यह सब इसलिए हुआ क्योंकि मुख्यमंत्री अपने ऊपर लगे सारे केस वापस ले रहे हैं।

इस अवसर पर डॉ. चन्द्रपाल सिंह, प्रदेश महासचिव तिलक चंद, पूर्व विधायक दीप नारायन सिंह व सीताराम कुशवाहा आदि उपस्थित रहे।

जो परेशानी में होते हैं वहीं करते हैं भगवान को याद

केशव के मथुरा में कृष्ण मंदिर निर्माण के प्रश्न पर उन्होंने कहा भगवान कृष्ण हम सबके हैं। हम केवल इतना जानते हैं कि जो परेशानी में होते हैं वही भगवान की याद करते हैं।

उन्होंने पुलिस कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान लगाया कहा कि सपा ने पुलिस को न्यूयॉर्क पुलिस सिस्टम दिया था, लेकिन भाजपा ने उसे भी बदल दिया और पुलिस से ही सारा भ्रष्टाचार करवा रहे हैं।

भाजपा देती है बिल बढ़ाकर करेंट

समाजवादी लोग सपने बड़े देखते हैं लेकिन भाजपा केवल बिजली का बिल बढ़ाकर जनता को करंट देती है। इनकी तो खाद की बोरी में भी चोरी हो रही है। अगर मुख्यमंत्री जी को बुलडोजर चलाने का इतना ही शौक है तो टेट का एग्जाम कराकर बेरोजगारी पर बुलडोजर क्यों नहीं चलाते। उन्होंने कहा कि दीपावली के पहले घर की सफाई करते हैं वैसे ही मैंने भी कहा था कि मुख्यमंत्री के घर की भी सफाई कर दें ताकि धुएं के धब्बे हट जाए।

यह कंजूस सरकार

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को तो यह भी पता नहीं कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे क्या है। उन्होंने तो झांसी की बात की थी। झांसी में तो बुंदेलखंड एक्सप्रेस भी नहीं आया लेकिन बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे को इटावा से जरूर जोड़ दिया। हमारे घर तक जोड़ दिया। यह सरकार कंजूस है। उन्होंने कहा टेट के एग्जाम का जो पर्चा लीक हुआ है लोग कह रहे हैं कि वह नकल कराने वाला गोरखपुर का बताया जा रहा है। कहीं उसके तार मुख्यमंत्री से तो नहीं जुड़े हैं। क्या वहां भी बुलडोजर चलेगा।

ये हुए शामिल

इस अवसर पर सपा से भारतीय जनता पार्टी में पहुंचे सतीश जतारिया ने अपनी घर वापसी करते हुए एक बार फिर सपा का दामन थाम लिया। वहीं कांग्रेस की पूर्व मंत्री बैनी बाई के सुपुत्र भी कांग्रेस में जा मिले।

(हि. स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *