Amit Shah : भारत के बोर्डर फेंसिंग में 2022 तक कोई गेप नहीं रहेगा : शाह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि देश में सीमापार से घुसपैठ, मानव तस्करी, गौ तस्करी, हथियारों की तस्करी, ड्रोन एक चुनौती है और हम चुनौतियां से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। गृह मंत्री ने दिल्ली में सीमा सुरक्षा बल के 18वें अलंकरण समारोह के दौरान यह बात कही।

अमित शाह ने कहा, सीमा सुरक्षा के काम में लगे BSF और सभी पैरामिलिट्री फोर्स के कारण आज भारत विश्व के नक्शे पर अपना गौरवमय स्थान दर्ज करा रहा है। मैं उन लोगों को सलाम करता हूं जिन्होंने सर्वोच्च बलिदान दिया है क्योंकि पूरा देश जानता है कि आप सजग बनकर देश की सीमाओं की सुरक्षा कर रहे हैं, इसी कारण आज देश लोकतंत्र के अपनाए हुए विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है, उन बलिदानियों को कभी भुलाया नहीं जा सकता।

गृह मंत्री ने कहा, सीमा सुरक्षा ही राष्ट्रीय सुरक्षा है। हमारे सामने घुसपैठ, मानव तस्करी, गौ तस्करी, हथियारों की तस्करी, ड्रोन जैसी कई चुनौतियां हैं। मुझे अपने अर्धसैनिक बलों पर पूरा भरोसा है कि वे सभी चुनौतियों को पार सीमा सुरक्षा को सुनिश्चित करेंगे। पीएम मोदी के तहत, हमारी एक स्वतंत्र रक्षा नीति है, जिसने उसी भाषा में प्रतिक्रिया की हमारी संप्रभुता को चुनौती देने वालों को चेतावनी दी है।

उन्होंने कहा कि हमें 7,516 किमी की तटीय सीमा और 15,000 किमी से अधिक जमीनी सीमा के साथ आगे बढ़ना था। लंबे समय तक कुछ प्राथमिकताओं के कारण सीमा सुरक्षा पर कोई चर्चा नहीं हुई। जब अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार बनी तो इस मुद्दे को आगे बढ़ाया गया। 2022 तक भारत के बोर्डर फेंसिंग में कोई गेप नहीं रहेगा।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *