अमेरिकी संसद में मनाया जाएगा भारतीय आजादी का अमृत महोत्सव

  • आजादी के अमृत महोत्सव समारोहों की शुरुआत 14 सितंबर को यूएस कैपिटल से होगी

वाशिंगटन, 12 सितंबर । भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर मनाये जा रहे अमृत महोत्सव समारोहों का सिलसिला अमेरिका तक पहुंच गया है। इसकी शुरुआत 14 सितंबर को अमेरिका की संसद में भारतीय आजादी का अमृत महोत्सव मनाकर होगी।

अमेरिका में भारतवंशी अच्छी संख्या में और मजबूत स्थिति में हैं। भारत-अमेरिकी रिश्तों को समर्पित संस्था यूनाइटेड स्टेट्स-इंडिया रिलेशनशिप काउंसिल के साथ हिन्दू स्वयंसेवक संघ, सेवा इंटरनेशनल, वर्ल्ड वेगन विजन, एकल विद्यालय फाउंडेशन, कोपियो सिलिकॉनवैली, यूएस-इंडिया फ्रेंडशिप काउंसिल और एसोसिएशन ऑफ इंडियन्स इन अमेरिका ने मिलकर अमेरिका में भारत की आजादी का अमृत महोत्सव मनाने का फैसला किया है। हिन्दू स्वयंसेवक संघ को भारत की सत्तारूढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी के मातृ संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अंतरराष्ट्रीय इकाई माना जाता है। इसी तरह के 75 संगठन आयोजन में शीर्ष भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

यूनाइटेड स्टेट्स-इंडिया रिलेशनशिप काउंसिल के मुख्य अधिशासी अधिकारी और आयोजन समिति के अध्यक्ष जशवंत पटेल ने कहा कि यह आयोजन 75 संगठनों को एक साथ लाएगा। 14 सितंबर को अमेरिकी संसद भवन यूएस कैपिटल से आजादी के अमृत महोत्सव समारोहों की शुरुआत होगी। यह अनूठा कार्यक्रम अमेरिकी संसद में भारत की आजादी के उत्सव का प्रतीक होगा। इस दौरान भारत की अनूठी संस्कृति और विविधता का प्रदर्शन किया जाएगा। भारतीय प्रवासी संगठन इस अवसर का उपयोग भारत की समृद्ध परंपरा, उसके नायकों, लोगों और उनकी उपलब्धियों को याद करने के लिए करेंगे।

आयोजकों की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि पिछले 75 वर्षों में भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने अमेरिका में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। भारतीय-अमेरिकी समुदाय की उपलब्धियों में स्वास्थ्य सेवा, प्रौद्योगिकी, मानवाधिकार, स्थिरता, पर्यावरणीय स्वास्थ्य सहित अन्य शामिल हैं। उन्होंने कहा, सबसे पुराने एवं सबसे बड़े लोकतंत्र अमेरिका और भारत ने कई क्षेत्रों में संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए मिलकर काम किया है। कैलिफोर्निया के पूर्व जल आयुक्त और आयोजन समिति के उपाध्यक्ष अशोक भट्ट ने कहा कि अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू अमेरिकी संसद में आयोजित समारोह में सम्मानित अतिथि होंगे। इस कार्यक्रम में कई अमेरिकी सांसद भी शामिल होंगे।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *