अंकिता हत्याकांड: भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने डीएसपी पर लगाया आरोपित शाहरुख को बचाने का आरोप

रांची, 29 अगस्त । दुमका जिले में हुआ अंकिता हत्याकांड अब तुल पकड़ता जा रहा है। इसको लेकर विपक्षी पार्टी हमलावर हो रही है। भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने सोमावर को दुमका डीएसपी नूर मुस्तफा पर आरोप लगाते हुए कहा कि डीएसपी के खिलाफ दुमका समेत पूरे राज्य के लोगों में भारी आक्रोश है और उनके वहां रहते लोगों को न्याय की उम्मीद नहीं है।

मरांडी ने एक के बाद एक ट्वीट में कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इससे पहले मामला और बिगड़े, इस षड्यंत्रकारी डीएसपी नूर मुस्तफा पर एफआईआर दर्ज करा कर उसे जेल भिजवाइये।

बाबूलाल मरांडी ने आगे कहा कि अंकिता हत्याकांड में जिस डीएसपी नूर मुस्तफा के काम्यूनल भूमिका और अभियुक्त शाहरुख को बचाने के आरोप को लेकर लोग उबल रहे हैं, वह अधिकारी घोर आदिवासी विरोधी हैं, उस इलाके में कोयला, बालू, पत्थर चोरी के सरगनाओं का संरक्षक और हिस्सेदार रहा है।

मरांडी ने कहा कि खबरों के मुताबिक दुमका में अंकिता को जलाए जाने के मामले में वहां के डीएसपी नूर मुस्तफा ने शुरू से ही अभियुक्त शाहरुख हुसैन को बचाने का प्रयास किया। एफआईआर में नाबालिग की जगह बालिग लिखवा दिये जाने की बात खबरों में आ रही है।

उल्लेखनीय है कि एकतरफा प्यार में विफल रहने के बाद शाहरुख हुसैन नामक युवक ने 12वीं की छात्रा अंकिता पर गत 23 अगस्त को पेट्रोल छिड़कर उसके ही घर में ही जला दिया था। बेहद गंभीर स्थिति में उसे दुमका के फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद बेहतर इलाज के लिए उसे रिम्स, रांची रेफर कर दिया गया था, जहां इलाज के दौरान शनिवार रात उसकी मौत हो गई।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *