Antonio Guterres : कॉप-26 जलवायु सम्मेलन के परिणाम पर्याप्त नहीं : गुटेरेस

संयुक्त राष्ट्र, 14 नवंबर: संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि ग्लास्गो में आयोजित कॉप-26 जलवायु शिखर सम्मेलन के प्रतिभागी कई महत्वपूर्ण जलवायु लक्ष्यों पर एक समझौते पर पहुंचने में विफल रहे हैं।

श्री गुटेरेस ने शनिवार को कहा, ”कॉप-26 का परिणाम एक समझौता है, यह आज की दुनिया के हितों, विरोधाभासों और राजनीतिक इच्छाशक्ति की स्थिति को दर्शाता है। यह एक महत्वपूर्ण कदम है, लेकिन पर्याप्त नहीं है। ”
उन्होंने वैश्विक तापमान को 1.5 डिग्री तक सीमित रखने के लक्ष्य को हासिल करने के लिए इस दिशा में तेजी से काम करने का आह्वान किया।

श्री गुटेरेस ने कहा, ”अब आपातकालीन मोड में जाने का समय आ गया है। हमें जीवाश्म ईंधन सब्सिडी को खत्म करना होगा, कोयले के इस्तेमाल को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करना होगा, कार्बन की कीमत तय करनी होगी, कमजोर समुदायों को जलवायु परिवर्तन के प्रभावों से बचाना होगा।”

महासचिव ने सम्मेलन में शामिल होने वाले विकसित देशों से विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का समर्थन करने के लिये 100 बिलियन डॉलर की आर्थिक मदद देने की प्रतिबद्धता को पूरा करने का भी आह्वान किया।
उन्होंने कहा, ”इस सम्मेलन में इन लक्ष्यों को हासिल नहीं किया जा सका है, लेकिन हमारे पास आगे बढ़ने के कुछ रास्ते हैं ।”

श्री गुटेरेस के अनुसार ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को अगले दस वर्षों में (2010 के स्तर की तुलना में) 45 प्रतिशत तक कम करना प्राथमिकता होगी।
गौरतलब है कि कॉप-26 जलवायु शिखर सम्मेलन स्कॉटलैंड के शहर ग्लास्गो में 31 अक्टूबर से 12 नवंबर तक आयोजित हुआ। यह सम्मेलन ग्रीनहाउस उत्सर्जन में कमी, कार्बन तटस्थता, ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु वित्त पर 2015 के पेरिस समझौते में निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए सार्थक प्रतिबद्धताओं तक पहुंचने में मदद करने के लिए आयोजित किया गया था।

वार्ता/स्पूतनिक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *