Archbishop Update : महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो एवं बिशप थियोडोर मसकरेनहस ने ख्रीस्त मिस्सा के साथ-साथ पवित्र तेलों की आशीष दी

सुशील टोप्पो

रांची: मंगलवार 30 मार्च को रांची स्थित संत मेरी कैथेड्रल में रांची के महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो ने बिशप थिओडोर मसकरेनहस, फा. सेबेस्टियन तिर्की रांची महाधर्मप्रांत में कार्यरत पुरोहितों और धर्म बहनों के साथ-साथ ख्रीस्मा मिस्सा या पवित्र तेलों की आशिष हुई l

आज के ख्रीस्तयाग के तीन भाग थे l

1. शब्द–समारोह

2. पुरोहितो दोवारा पुरोहिताई समर्पण का नवीनीकरण

3. तीन पवित्र तेलों कि आशिष

पहला तेल – (The Oil of Catechumens)  दीक्षार्थियों का तेल: इस तेल के अभ्यंजन दोवारा नवदीक्षितों को बपतिस्मा दिया जाता है l

दूसरा तेल – (The Oil of the Sick)  बीमारों का तेल : इस तेल का प्रयोग और अभ्यंजन दोवारा बीमारों को चंगा किया जाता है ताकि उन्हें इश्वरीय सांत्वना, धीरज और शक्ति मिले l

तीसरा तेल (The oil for the holy Chrism)  पवित्र विलेपन का तेल: इस पवित्र तेल का प्रयोग और अभ्यंजन पुरोहित-अभिषेक एवं दृढी़करण संस्कार के उम्मीदवारों को, अभ्यंजित किया जाता है l यह पवित्र विलेपन, नए गिरजा घरों की बेदी, या पत्रों  के अभ्यंजन के लिए किया जाता है l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *