Archdiocese of Ranchi : लुर्द की माता चर्च समलोंग में 162 बच्चों का दृढ़ीकरण

Insight Online News

रविवार 5 दिसंबर 2021

राँची महाधर्मप्रांत के समलोंग पल्ली में आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो के पावन हाथों द्वारा 162 बच्चों को दृढ़ीकरण संस्कार दिया गया। दृढ़ीकरण संस्कार में उम्मीदवारों को क्रिज़्म तेल से अभिषिक्त किया जाता है और पवित्र आत्मा से विशेष वरदानों के प्रार्थना की जाती है जो उनको विश्वास में मजबूत करता है।

आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो ने पवित्र मिस्सा बलिदान चढ़ाया और अपने प्रवचन में आगमन काल की महत्ता को बताते हुए कहा कि विश्वासियों को न केवल बाह्य रूप से बल्कि आत्मिक रूप से प्रभु येसु को अपने जीवन में स्वागत करने के लिए तैयारी का समय है।

उन्होंने एक ख्रीस्तीय के जीवन में दृढ़ीकरण संस्कार की महत्वा को समझाते हुए कहा कि दृढ़ीकरण संस्कार हमें अपने जीवन द्वारा येसु का साक्ष्य देने , दूसरों के प्रति प्रेम, क्षमा, शांति, दया, एकता और भाईचारा का जीवन जीने के लिए आह्वान करती है। दृढ़ीकरण संस्कार के द्वारा पवित्र आत्मा के सातों वरदानों को पाते हैं जो हम सभों को हर प्रकार के परीक्षाओं, मुसीबतों, प्रलोभन, कठिनायों एवं अन्य विषम परिस्थितियों में अपने विश्वास में अटल रहने की प्रेरणा देता है और हम येसु के शिष्य बने रहते हैं।

दृढ़ीकरण संस्कार लेने वाले बच्चे -बच्चियों को सिस्टर कुसुम, एडलिन एक्का और मिस एलेन लौरेंस ने प्रशिक्षित किया। दृढ़ीकरण समारोह में फादर नेल्सन बरला, फा. अगुस्टिन केरकेट्टा, फा. आनंद लकड़ा, फा. विक्टोर लकड़ा एवं बड़ी संख्या में धर्मबहनें, धर्मबंधु और विश्वासी माता पिता एवं भाई -बहनें उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *