जेल में बंद अर्पिता और पार्थ की मुश्किलें बढ़ीं, सीबीआई भी करेगी पूछताछ

कोलकाता, 8 अगस्त । पश्चिम बंगाल में शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार राज्य के बड़े नेता पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की मुश्किलें और अधिक बढ़ने वाली हैं। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के बाद अब सीबीआई भी पूछताछ करेगी।

शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में राज्य के पूर्व मंत्री और महिला मित्र फिलहाल जेल में बंद हैं। अर्पिता को अलीपुर महिला जेल में और पार्थ प्रेसिजेंसी सेंट्रल जेल में रखा गया है। सीबीआई सूत्रों ने बताया है कि दोनों से पूछताछ करने और हिरासत में लेने की तैयारी शुरू कर दी गई है। इसके लिए कोर्ट में अर्जी लगाई जा रही है। अगर ऐसा हुआ तो दोनों लंबे समय के लिए जेल में रह सकते हैं क्योंकि जैसे ही ईडी की हिरासत खत्म होगी तुरंत सीबीआई उन्हें अपनी हिरासत में लेने की अर्जी लगाने वाली है। इसलिए दोनों के फिलहाल जेल से रिहा होने की संभावना कम दिख रही है।

उल्लेखनीय है कि शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार दोनों के संयुक्त आवास से 50 करोड़ नकद, चार करोड़ 31 लाख के सोने चांदी के गहने, विदेशी मुद्रा और कई अन्य सामान मिले हैं।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.