Arvind Kejriwal : ‘भ्रष्ट बाहर, ईमानदार भीतर’- हर घर से आने वाला संदेश हो : केजरीवाल

पणजी : आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को गोवा की जनता का राज्य में एक ईमानदार सरकार चुनकर पूरी व्यवस्था में सुधार करने का आह्वान किया और कहा कि ‘भ्रष्ट बाहर, ईमानदार भीतर’ यहां के हर घर से आने वाला संदेश होना चाहिए।
श्री केजरीवाल ने एक बयान में कहा, “ हमें न केवल चेहरे और पार्टियां ही नहीं , बल्कि पूरी व्यवस्था बदलनी होगी। अगला चुनाव एक क्रांति होगा। हमें एक बदलाव करना होगा। हमें मुख्यमंत्री , मंत्रियों और उनकी पार्टी के नेताओं को बदलने की जरूरत है।

एक ईमानदार सरकार का समय है। अब सत्ता सीधे गोवा में लोगों के हाथों में होगी।”
उन्होंने कहा, “ गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने हाल ही में घोषणा की थी कि वह अपने पिता प्रताप सिंह राणे के खिलाफ लड़ेंगे और उन्हें हरा देंगे। यह राज्य अभी सत्ता के पागलपन से इतना भरा हुआ है कि सत्ता का प्यासा बेटा बाप को चुनौती देने के लिए तैयार है? प्रभु श्री राम ने अपने पिता के कहने पर अयोध्या महल छोड़ा था। उन्होंने 14 वर्ष वनवास में बिताए। यही हमारा हिंदू धर्म हमें सिखाता है। विश्वजीत राणे को अपने फैसले पर शर्म आनी चाहिए।”

उन्होंने कहा, “ ‘भाजपा सरकार में एक मंत्री है जो एक सेक्स स्कैंडल में फंस गया है और उसे हाल ही में इस्तीफा देना पड़ा। एक मंत्री है जो कोरोना के समय वेंटिलेटर और ऑक्सीजन घोटाले में लिप्त था। एक मंत्री पर बिजली क्षेत्र के घोटाले का आरोप लगाया गया है और दूसरे मंत्री पर श्रम घोटाले का आरोप लगाया गया है। कोई दूसरा मंत्री सरकारी नौकरी देने के लिए घूस लेता है। एक मंत्री ने कूड़ा भी नहीं छोड़ा। उन पर कचरा घोटाले का आरोप है।”

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा , “ क्या ऐसे लोग गोवा का विकास कर सकते हैं? ऐसे लोग ही अपना घर भर सकते हैं। मंत्रियों से लेकर सरकारी अधिकारियों तक सभी घोटालों में लिप्त हैं। इसे बदलना होगा और इसकी चाबी गोवा के लोगों के पास है।”
उल्लेखनीय है कि आप ने आगामी विधानसभा चुनाव में तटीय राज्य की सभी 40 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *