Badrinath Dham decorated with flowers, five lakh more devotees arrived : बद्रीनाथ धाम पुष्पों से सुसज्जित हुआ, पांच लाख अधिक श्रद्धालु पहुंचे

देहरादूनः उत्तराखंड स्थित विश्व विख्यात बद्रीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए शनिवार 20 नवम्बर को बन्द होने से पूर्व मंदिर को पुष्पों से सुसज्जित करने के साथ पंच पूजाओं के क्रम में शुक्रवार को मां लक्ष्मी जी की पूजा तथा उन्हें बद्रीनाथ मंदिर आने की प्रार्थना की गई।

देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मीडिया प्रभारी डॉक्टर हरीश गौड़ ने बताया कि बद्रीनाथ धाम के कपाट शीतकाल हेतु शनिवार को बंद हो जाएंगे। शुक्रवार तक 2768 तीर्थयात्री यहां पहुंचे, जिसके साथ ही अब तक 191106 श्रद्धालु बद्रीनाथ धाम के दर्शन कर चुके हैं। है। उन्होंने बताया कि कपाट बन्द के अवसर हेतु बद्रीनाथ पुष्प सेवा समिति, ऋषिकेश ने बद्रीनाथ मंदिर को 20 क्विंटल विभिन्न गेंदा, गुलाब, कमल आदि फूलो, पत्तियों से सजाया है। अभी तक बद्रीनाथ धाम की यात्रा जारी है।

डॉक्टर गौड़ ने बताया कि उत्तराखंड स्थित चार धामों गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ में 5 लाख रिकार्ड श्रद्धालु पहुंचे है। जिनमें से बद्रीनाथ धाम 191106, केदारनाथ 242712, गंगोत्री 33166 और यमुनोत्री 33306 तीर्थयात्री पहुंचे है। उन्होंने बताया कि इस तरह चारधाम पहुंचने वाले कुल तीर्थयात्रियों की संख्या 500290 है।

उल्लेखनीय है कि विश्व प्रसिद्ध बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने की प्रक्रिया के अंतर्गत पंच पूजाओं के पहले दिन 16 नवंबर को प्रातः से गणेश जी की पूजाएं तथा शाम को गणेश जी के कपाट शीतकाल हेतु बंद हुए। 17 नवंबर को आदि केदारेश्वर भगवान के कपाट बंद हुए तथा 18 नवंबर को खडग पुस्तक पूजन हुआ और वेद ऋचाओं का पाठ बन्द हुआ। अब 20 नवंबर शनिवार को बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होंगे।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *