Bengal Election Update: अब बंगाल के बाहर अपने लिए जगह तलाश रही हैं दीदी: पीएम मोदी


कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को दूसरी जनसभा दक्षिण 24 परगना के सोनारपुर में की। जनसभा में मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दीदी अब समझ गई हैं कि बंगाल में उनका अस्तित्व बचने वाला नहीं है। इसीलिए बंगाल से बाहर जगह तलाश रही हैं। मुख्यमंत्री ममता के बनारस से चुनाव लड़ने संबंधी बयान का जिक्र करते हुए कहा कि यूपी वासियों को दीदी गाली दे रही हैं, उसी यूपी से चुनाव लड़ने की बात कर रही हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में कानून व्यवस्था से लेकर महिलाओं की सुरक्षा पर सरकार ध्यान नहीं दे रही है। मोदी ने कहा कि दीदी की सरकार का रिपोर्ट कार्ड, यहां की सड़कों पर दिखता है। राजधानी से सटा हुआ इलाका होने के बावजूद जाम और वॉटर लॉगिंग की समस्या यहां आम है। सड़कें पानी से भर जाती हैं, लेकिन घर में साफ पीने का पानी नहीं मिलता, क्योंकि टैंकर माफिया की यही मर्जी है।

उन्होंने कहा कि आज गरीब से गरीब को इलाज पर कम से कम खर्च करना पड़े, इसके लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। लेकिन पश्चिम बंगाल में इलाज में भी कटमनी चलता है। यही वजह है कि दीदी की सरकार आयुष्मान भारत योजना से जुड़ने के बाद वापस हट गईं। बीते सालों में जो निराशा यहां फैलाई गई है, उसी को आशा में बदलना ही तो आशोल पॉरिबोर्तोन है। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया कट मनी, बिचौलिए, करप्शन, इनको रोकने का एक बहुत सक्षम माध्यम है। इससे भी टीएमसी को बहुत तकलीफ है। मोदी ने कहा कि दीदी की पार्टी अब कह रही है कि वह अब वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। इससे दो बातें साफ होती हैं, एक तो दीदी ने बंगाल में अपनी पराजय स्वीकार कर ली है। दूसरी, दीदी अब बंगाल के बाहर अपने लिए जगह तलाश करने में जुट गई हैं। उन्होंने कहा कि ये जरूर है कि आपको वाराणसी में तिलक वाले लोग बहुत मिलेंगे, साथ ही चोटी वाले लोग भी बहुत मिलेंगे। यहां आप जय श्रीराम के आह्वान से चिढ़ती हैं, वहां आपको हर-हर महादेव भी सुनने को मिलेगा। दीदी, ओ दीदी, फिर आप क्या करेंगी? मेरी आपसे एक ही प्रार्थना है, बनारस के लोगों पर, यूपी के लोगों पर गुस्सा मत करिएगा दीदी। यूपी- वाराणसी के लोगों ने मुझे इतना प्यार दिया है, वो आपको भी बहुत स्नेह देंगे दीदी। 


उन्होंने कहा कि दीदी, आप बंगाल की जनता पर विश्वास करिए, वो अपना निर्णय दे चुकी है। ये तय हो गया है कि आपको अब टाका-मार-कम्पनी यानि टीएमसी सहित ‘नबान्न’ छोड़कर जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हम सभी जानते हैं कि सिंगूर में क्या हुआ था। उन्होंने अपनी राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल किया और फिर लोगों को अधर में छोड़ दिया। आज, कोई उद्योग नहीं है और किसान संकट में हैं। मोदी ने कहा कि बंगाल में भाजपा की सरकार बनने के बाद सूबे का चौतरफा विकास कर सोनार बांग्ला बनाया जाएगा।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *