Bengal Election Update : बंगाल के चुनावी समर में निर्दलीय उम्मीदवार की संपत्ति 650 करोड़ से अधिक

कोलकाता, 05 अप्रैल । पश्चिम बंगाल के चुनावी समर में एक से बढ़कर एक धुरंधर मैदान में उतरे हैं। इसमें से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे एक नक्सल नेता ऐसे भी हैं जिनकी संपत्ति 650 करोड़ रुपये से अधिक है। हालांकि वह शौक से किराए के मकान में रहते हैं। इस नेता का नाम विनय कुमार दास है। शनिवार को उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया है।

उन्होंने बताया है कि पिछले कई दशकों से वह शौकिया तौर पर किराए के मकान में रहते हैं। उनकी पैतृक संपत्ति 650 करोड़ 82 लाख 57 हजार रुपये की है। रायगंज विधानसभा क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने वाले विनय मूल रूप से कर्णजोरा कालीबाड़ी इलाके के रहने वाले हैं।

वह पंचायत दफ्तर में काम करते थे और 2005 में रिटायर हुए हैं। इसके पहले 2018 के पंचायत चुनाव में उन्होंने रायगंज जिला परिषद की एक सीट से चुनाव लड़ा था लेकिन हार गए थे। इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में भी रायगंज से प्रतिद्वंदिता की थी लेकिन जीत नहीं हो सकी थी।

इस बारे में विनय ने बताया कि पैतृक संपत्ति उनकी मालदह में है और करीब 100 एकड़ से अधिक जमीन है। इसके अलावा कुछ जमीन पर आम के बागान हैं जो इन्हीं के नाम पर रजिस्टर्ड हैं। इसके अलावा रायगंज, मालदा, जलपाईगुड़ी, हरियाणा और बनारस में 14 पैतृक निवास हैं। उन्होंने यह बताया कि वह ना केवल शौक से किराए के मकान में रहते हैं बल्कि चुनाव लड़ना भी उनका शौक है और इसीलिए हर एक चुनाव लड़ते हैं भले हारे या जीते इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *