Bengal Update : अब नंदीग्राम में भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी करेंगी शक्ति प्रदर्शन

कोलकाता, 24 दिसम्बर। नंदीग्राम आंदोलन का मुख्य चेहरा रहे राज्य के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी के भारतीय जनता पार्टी में जाने के बाद अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नंदीग्राम में जनसभा करने जा रही हैं। दरअसल नंदीग्राम आंदोलन ही वह आधार था जिसके जरिए ममता बनर्जी को 2011 में 33 सालों के माकपा शासन को उखाड़ फेंकने का मौका मिला था। 2007 के इस आंदोलन का मुख्य चेहरा शुभेंदु अधिकारी थे और विपक्ष की मुख्य नेत्री के तौर पर ममता बनर्जी ने आंदोलनकारियों के पक्ष में खड़े होकर तत्कालीन माकपा सरकार के खिलाफ हल्ला बोला था।

यही पुलिस की बर्बरता से राज्य भर में ममता के पक्ष में माहौल बना था। इस आंदोलन के मुख्य सूत्रधार शुभेंदु अधिकारी अब भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। कई बार वह कह चुके हैं कि नंदीग्राम आंदोलन में ममता की कोई भूमिका नहीं थी बल्कि यहां के स्थानीय लोगों ने आंदोलन किया था। वह नंदीग्राम के लोगों को आश्वस्त कर चुके हैं कि यहां लोगों का साथ कभी नहीं छोड़ेंगे। लगातार दावा किया जाता है कि अधिकारी के भाजपा में शामिल होने के बाद नंदीग्राम में तृणमूल कांग्रेस ने केवल कमजोर हो गई है बल्कि इस बार विधानसभा चुनाव में वहां पार्टी को बहुत कम संख्या में वोट मिलेंगे। शुभेंदु अधिकारी नंदीग्राम से विधायक भी रहे हैं। हाल ही में उन्होंने इस्तीफा दिया है। इस लिहाज से वहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद ही जनसभा करने जा रही हैं।

तृणमूल कांग्रेस की ओर से बताया गया है कि आगामी वर्ष की शुरुआत में सात जनवरी को ममता बनर्जी की नंदीग्राम में सभा है। इसके लिए प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं। सूत्रों के अनुसार तृणमूल कांग्रेस वहां अधिक संख्या में भीड़ एकत्रित करने की कोशिश करेगी ताकि भाजपा पर दबाव बनाया जा सके। हालांकि राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल और भाजपा में एक दूसरे के खिलाफ जोर आजमाइस जारी रहने वाली है।

(हि. स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *