Bengal’s Durga Puja included in UNESCO heritage list : पश्चिम बंगाल में मनाई जाने वाली दुर्गा पूजा को मिली वैश्विक पहचान, यूनेस्को ने हेरिटेज लिस्ट में किया शामिल

कोलकाताः बंगाल में मनाई जाने वाली ‘दुर्गा पूजा’ को वैश्विक पटल पर एक नई पहचान मिली है। दरअसल, संयुक्त राष्ट्र संघ की कल्चर यूनिट (यूेनेस्को)ने बुधवार को बंगाल की दुर्गा पूजा को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में शामिल करने की घोषणा की। ना सिर्फ भारत के लिए बल्कि खासतौर पर बंगाल के लोगों के लिए ये एक बहुत बड़ी खुशखबरी है। आपको बता दें कि बंगाल सरकार ने ही यूनेस्को से दुर्गा पूजा को विरासत की सूची में शामिल करने का आवेदन किया था। अब यूनेस्को ने इस आवेदन को स्वीकार कर लिया है। इससे बंगाल की दुर्गा पूजा को विश्व स्तर पर मान्यता मिल गई है।

आपको बता दें कि हर साल दुर्गा पूजा का आयोजन सितंबर या अक्टूबर में किया जाता है। हिंदुस्तान में मनाया जाने वाला ये एक वार्षिक त्यौहार है। वैसे तो पूरे देश से लेकर विदेशों में भी दुर्गापूजा का आयोजन होता है, लेकिन बंगाल और उसमें भी खासकर कोलकाता में आयोजित होने वाली दुर्गा पूजा काफी विख्यात है। क्योंकि यह पंडाल से लेकर प्रतिमा तक ऐसे सजाए जाते हैं कि लोग देखते ही रह जाते हैं। ये 10 दिवसीय त्यौहार होता है। पूरे देश में इसे नवरात्रों के रूप में भी मनाया जाता है। पर बंगाल में यह पांच दिवसीय त्योहार होता है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *