Bihar : राजद के कई नेता हुए बेटिकट , कुछ के बेटे और पत्नी को मिला टिकट

दुष्कर्म मामले में सजायाफ्ता के साथ आरोपी विधायक की पत्नियों को मिला टिकट

जगदानंद व शिवानन्द के बेटों के साथ जयप्रकाश यादव की बेटी भी  चुनावी मैदान में

बेटिकट हो सकते हैं जदयू से मंत्री पद छोड़ राजद में जाने वाले श्याम रजक

पटना, 05 अक्टूबर । बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन में सीटों का बंटवारा होने के बाद  राष्‍ट्रीय जनता दल ने अपने प्रत्‍याशियों पहली सूची के नामों  का एलान  करना शुरू कर दिया है।  पूरी सूची की औपचारिक घोषणा अभी नहीं की गई है। पार्टी के कई नेताओं के टिकट कट गए हैं जबकि राजद के बड़े नेताओं को कहीं न कहीं से एडजस्‍ट कर लिया गया है। यहां तक कि पार्टी ने अपने दागी विधायकों की पत्नियों को भी टिकट देने में परहेज नहीं किया है। नवादा में एक नाबालिग बच्ची के साथ दुष्‍कर्म मामले में सजायाफ्ता राजबल्लभ यादव की पत्नी विभा देवी तथा संदेश से दुष्‍कर्म के आरोपित अरुण यादव की पत्‍नी किरण देवी को भी टिकट से नवाजा गया है।

 जानकारी के अनुसार, राजद ने बोधगया से सर्वजीत कुमार, रोहतास के नोखा से अनीता देवी, जमुई से विजय प्रकाश, भोजपुर के जगदीशपुर से रामबिशुन लोहिया, रामगढ़ से राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के बेटे सुधाकर कुमार सिंह, बेलहर से रामदेव यादव, झाझा से राजेंद्र यादव, मखदुमपुर से सूबेदार दास, भोजपुर के शाहपुर से शिवानन्द तिवारी के बेटे राहुल तिवारी, जहानाबाद से सुदय यादव, चकाई से सावित्री देवी, नवीनगर से डब्लू सिंह एवं बेला से सुरेंद्र यादव को प्रत्‍याशी बनाया गया है।

उधर, ओबरा विधानसभा सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री कांति सिंह के बेटे को चुनाव मैदान में उतरा जा सकता है। पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश यादव की बेटी दिव्या प्रकाश को भी मुंगेर की तारापुर सीट से राजद का टिकट मिल सकता है। पूर्व मंत्री विजय प्रकाश जमुई सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। मधुबनी से समीर कुमार महासेठ एवं गोह से भीम सिंह प्रत्‍याशी हो सकते हैं। वैशाली की महनार या लालगंज सीट पर पूर्व सांसद रामा सिंह का दावा है। इनमें किसी एक सीट पर राजद नेता बिशुनदेव राय के भतीजे डॉ. मुकेश रंजन का भी दावा है। सूत्र बताते हैं कि तेजस्वी यादव ने दोनों दावेदारों को आमने-सामने बैठाकर बात की, लेकिन महनार सीट पर फंसा पेंच हल नहीं हो सका।

 राजद के कई नेताओं का  टिकट कटना   तय लग रहा  है। सूत्रों के अनुसार भोजपुर की बड़हरा सीट से विधायक सरोज यादव का टिकट कट सकता है। वहां पूर्व मंत्री राघवेंद्र प्रताप सिंह या बीडी सिंह रेस में हैं। रोहतास के काराकाट से विधायक संजय यादव का टिकट भी कटना तय लग रहा है। उनकी सीट भाकपा (माले) के पास चली गई है।

कहीं के नहीं रहे श्याम रजक

हाल ही में जनता दल यूनाइटेड से पाला बदल कर राजद में आए पूर्व मंत्री श्‍याम रजक का टिकट भी फंसता दिख रहा है। श्‍याम रजक की फुलवारी (सु) सीट भाकपा (माले) को मिल गई है। अब श्‍याम रजक को कहीं और से एडजस्‍ट करने की बात चल रही है। हालांकि इस पर अभी तक फैसला नहीं हो सका है। श्‍याम रजक के पास मसौढ़ी से चुनाव लड़ने का विकल्‍प है, लेकिन तब वहां मौजूदा राजद विधायक रेखा पासवान का पेच फंसेगा। रेखा पासवान मसौढ़ी से प्रत्‍याशी हो सकती हैं।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *