Bihar News : बिहार निवासी लक्ष्यद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का निधन, गया में होगा अंतिम संस्कार

  • निधन पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री समेत कई नेताओं ने जताया शोक

पटना । बिहार के गया जिले के पाली गांव निवासी एवं लक्ष्यद्वीप के 34वें प्रशासक दिनेश्वर शर्मा (66) का शुक्रवार को निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थे। वे बिहार के पूर्व डीजीपी अभयानंद के समधी भी थे। भतीजे संतोष कुमार ने बताया कि शनिवार (5 दिसम्बर) को गया में दिनेश्वर शर्मा का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

दिनेश्वर शर्मा के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित कई केंद्रीय मंत्रियों ने शोक जताया है। शर्मा की भाभी गीता कुमारी ने बताया कि दिना जी (घर का नाम) लंग्स की बीमारी के कारण दिल्ली एम्स में भर्ती हुए थे, लेकिन वहां से उन्हें बेहतर इलाज के लिए चेन्नई ले जाया गया था। जहां लंग्स ट्रांसप्लांट होना था।

1979 बैच के केरल कैडर के सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी दिनेश्वर शर्मा लक्षद्वीप के प्रशासक बनने से पहले जम्मू कश्मीर में 2017 में केंद्र सरकार की ओर से वार्ताकार नियुक्त किए गए थे। उन्होंने 31 दिसम्बर 2014 से 2016 तक इंटेलिजेंस ब्यूरो के 25वें निदेशक के रूप में काम किया। उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी करीबी माना जाता था। मोदी ने ही साल 2017 में उन्हें कश्मीर में शांति बहाल कराने का जिम्मा सौंपा था। शर्मा को 1997 में मेधावी सेवा के लिए प्रतिष्ठित भारतीय पुलिस पदक से सम्मानित किया गया। वर्ष 2003 में राष्ट्रपति पुलिस पदक के लिए विशिष्ट सेवा पदक मिला। दिनेश्वर शर्मा ने मगध विश्वविद्यालय, बोधगया से स्नातक किया था। उनके परिवार में पत्नी मंजू शर्मा के अलावा एक बेटा और बेटी सहित भरापूरा परिवार है।

उत्कृष्ट पुलिस अधिकारी रहे शर्मा की आंतरिक सुरक्षा में विशेषज्ञता थीः राष्ट्रपति

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का निधन दुखद है। एक उत्कृष्ट पुलिस अधिकारी रहे शर्मा की आंतरिक सुरक्षा में विशेषज्ञता उल्लेखनीय थी। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी गहरी शोक संवेदना है।

पुलिसिंग और सुरक्षा तंत्र में लंबे समय तक योगदान दियाः प्रधानमंत्री

दिनेश्वर शर्मा के निधन पर शोक जताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा जी ने देश के पुलिसिंग और सुरक्षा तंत्र में लंबे समय तक योगदान दिया। उन्होंने अपने पुलिसिंग कॅरियर के दौरान आतंकवाद और उग्रवाद के खिलाफ कई संवेदनशील मोर्चों को संभाला। उनके निधन से बहुत दुख हुआ। उनके परिवार के प्रति हमारी संवेदना है। ऊँ शांतिः।

गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा के निधन से पीड़ा हुई। उन्होंने भारतीय पुलिस सेवा के एक समर्पित अधिकारी के रूप में देश भक्ति की। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। ऊँ शांतिः।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने अपनी शोक संवेदना में कहा कि हमारे परिवार के सदस्य, मृदुभाषी, चपल अधिकारी, गया निवासी दिनेश्वर शर्मा नहीं रहे। लक्षद्वीप के प्रशासक के रूप में सेवारत थे। प्रभु उनकी आत्मा को शांति दें।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *