Bihar News : प्रधानमंत्री को आभास नहीं कि किसानों में कितनी बेचैनी और नाराजगी है: तारिक अनवर

  • नीतीश कुमार की भूमिका बड़े भाई से छोटे भाई में बदल गई

कटिहार, 30 नवम्बर । कांग्रेस महासचिव व पूर्व केंद्रीय मंत्री तारिक़ अनवर ने सोमवार को कहा कि नए कृषि कानूनों को वापस लेने और फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी की मांग को लेकर किसानों का आंदोलन धीरे-धीरे विकराल रूप धारण कर रहा है। प्रधानमंत्री को इस बात का अंदाजा नहीं हो रहा है या वो समझ नहीं पा रहे हैंं कि किसानों में कितनी बेचैनी और नाराजगी है।

तारिक अनवर ने कहा कि किसानों ने एक बार फिर ठान लिया है कि जब तक सरकार कानून को वापस नहीं लेगी वे पीछे नहीं हटेंगे। इस विधेयक के खिलाफ पूरे देश से, विशेष रूप से दिल्ली के आसपास के राज्यों पंजाब, हरियाणा व उत्तर प्रदेश से बड़े पैमाने पर किसान दिल्ली पहुंच रहे हैं। किसानों को रोकने की पूरी कोशिश हुई, हर तरह से सरकार की ओर से किसानों के ऊपर अत्याचार व हिंसा हुई, इसके बावजूद किसान नही मान रहे हैं। प्रधानमंत्री को यह एहसास नही है क्योंकि अभी ‘मन की बात’ में उन्होंने फिर उस बात को दुहराया और कहा कि जो बिल पास हुआ है वह किसानों के फायदे के लिए है।

बिहार सरकार को कितना स्थायी और मजबूत मानते हैं के सवाल पर उन्होंने कहा कि सब को पता है कि इस चुनाव में प्रशासन और चुनाव आयोग का दुरुपयोग किया गया। चुनाव से पहले और बाद भी तमाम एक्जिट पोल का मानना था कि बिहार में महागठबंधन की सरकार बनेगी, अब इसमें क्या हेराफेरी हुई मालूम नहीं। फिर भी हमलोगों का मानना है कि यह सरकार ज्यादा दिनों तक टिकाऊ नहीं हो पाएगी। क्योंकि सरकार के अंदर विरोध है। आने वाले समय में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।

पहले से अब परिस्थितियां बदल गई हैं, अब एक प्रकार से उनकी भूमिका बड़े भाई से छोटे भाई में बदल गई है। भारतीय जनता पार्टी ने एक षड्यंत्र के तहत नीतीश कुमार को कमजोर करने का काम किया है।
बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस परफॉर्मेंस पर बोलते हुए अनवर ने कहा कि हमारी कमजोरी कहां रही इसकी समीक्षा करेंगे और हमारा प्रयास रहेगा कि कांग्रेस को जमीनी स्तर पर मजबूत किया जाए।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *