Bombay High Court : आर्यन की जमानत पर बॉम्बे उच्च न्यायालय में बुधवार को भी होगी सुनवाई

Insight Online News

मुंबई 26 अक्टूबर : क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तार बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के पुत्र आर्यन खान की जमानत अर्जी पर बॉम्बे उच्च न्यायालय में मंगलवार को सुनवाई अधूरी रही।

उच्च न्यायालय ने इस मामले में आगे की सुनवाई के लिए बुधवार 2:30 बजे का समय तय किया है। आर्यन की ओर से न्यायालय में वरिष्ठ वकील एवं पूर्व ऑटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने मंगलवार को अपनी दलीलें रखीं। अब इस मामले में बुधवार को सह आरोपी अरबाज मर्चेंट की जमानत पर वकील अमित देसाई अपनी दलीले पूरी करेंगे। श्री देसाई आज भी न्यायालय में दलील रख रहे थे, तो न्यायालय ने उनसे पूछा कि आपको कितना समय लगेगा। श्री देसाई ने 45 मिनट का समय मांगा। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ( एनसीबी) की ओर से पेश वकील अनिल सिंह ने भी अपनी बात रखने के लिए न्यायालय से 45 मिनट का वक्त मांगा। इसके बाद न्यायालय ने सुवाई बुधवार तक के लिए टाल दी। ।

आर्यन के वकील रोहतगी ने न्यायालय में दलील दी कि मुवक्किल के पास कुछ नहीं मिला है और न ही उनका मेडिकल कराया गया, जिससे ये पता चले कि उन्होंने नशा किया था। उन्होंने कहा कि अरबाज मर्चेंट के जूतों से 6 ग्राम चरस मिली, लेकिन मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता सिवाय कि वह मेरे आर्यन के दोस्त हैं। उन्होंने कहा कि आर्यन के खिलाफ कुछ नहीं मिला है। श्री रोहतगी ने आर्यन की तीन अक्टूबर को की गयी गिरफ्तारी को अवैध करार दिया और कहा कि मोबाइल चैट में क्या है ये साबित होना बाकी है। उन्होंने दावा किया कि इस चैट का क्रूज ड्रग्स पार्टी मामले से कोई लेना-देना नहीं है। इसके बिनाह पर किसी को जेल में नहीं रखा जा सकता।

श्री रोहतगी ने कहा, “एनसीबी पुरानी चैट का जिक्र कर रही है और उसी के आधार पर कह रही है कि आर्यन का कुछ लोगों से लेना-देना है। मैं जब बाहर था तो इसको भी अंतरराष्ट्रीय लिंक बताया जा रहा था।उन्होंने कहा कि यह बहुत छोटा सा मामला है और आर्यन के परिजन (पिता) की वजह से लड़के के मामले को इतना हाइलाइट कर दिया गया। उन्होंने कहा कि कानून कहता है कि अगर नशे का सेवन किया गया हो तो भी व्यक्ति का पुनर्वास होना चाहिए। ऐसे मामे में लोगों को जेल में डालने की मंशा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि सामाजिक न्यायालय मंत्रालय सुधार की बात कर रहता है। उन्होंने कहा कि आर्यन 23 साल का है और कैलिफोर्निया से स्नातक की पढ़ाई की है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से वह भारत वापस आया था। उन्होंने बताया कि आर्यन क्रूज के कस्टमर भी नहीं था। उसे अतिथि के तौर पर गाबा ने आमंत्रित किया था।

संतोष, मनोहर, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *