चीनी जहाजों ने समुद्री मध्य रेखा को फिर से किया पार: ताइवान

ताइपे 05 अगस्त : ताईवान की रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि कई चीनी जहाजों और विमानों ने दूसरे दिन भी ताइवान जलडमरूमध्य की मध्य रेखा को पार किया है।

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि मध्य रेखा ताइवान जलडमरूमध्य में चीनी मुख्य भूमि और ताइवान के बीच अनौपचारिक से बांटने वाली रेखा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी शीर्ष डेमोक्रेट नैन्सी पेलोसी की ताइवान की विवादास्पद यात्रा के बाद चीन ने द्वीप के चारों ओर दूसरे दिन भी सैन्य अभ्यास शुरू किया है।

सुश्री पेलोसी ने जापान में बोलते हुए शुक्रवार को कहा कि चीन की चेतावनियों के बीच उनकी ताइवान की यात्रा अपने निहित स्वार्थ से प्रेरित नहीं थी। उन्होंने यह भी संकल्प लिया कि अमेरिका चीन को ताइवान को अलग-थलग नहीं करने देगा।

ताइवान ने गुरुवार को कहा कि चीन ने ताइवान के उत्तर-पूर्व और दक्षिण-पश्चिम तटों के आसपास बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं है।

बीबीसी ने रिपोर्ट में यह बताया कि ताईवान ने कहा कि इस कदम ने द्वीप की संप्रभुता का उल्लंघन किया और घेराबंदी की जा रही है। अमेरिका और ताइवान दोनों ने हालांकि चीन पर ताइवान जलडमरूमध्य में यथास्थिति को बदलने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। जबकि चीन ताइवान को अपना एक अलग प्रांत के रूप में देखता है जिसे चीन के साथ एकजुट होना चाहिए। अमेरिका ताइवान को राजनयिक रूप से मान्यता नहीं देता है लेकिन वह चीनी दावों से भी सहमत नहीं है।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *