कांग्रेस के पास केवल पीएम मोदी का अपमान करना ही काम है : केशव प्रसाद मौर्य

अहमदाबाद । उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य गुजरात दौरे पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस के पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपमान के अलावा कोई और काम नहीं है। ऐसा लगता है कि बाकायदा इसके लिए पार्टी नेताओं को प्रशिक्षण दिया गया है। वक्त आ चुका है कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सबक सिखाया जाए। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री चुनाव के लिहाज से दो दिवसीय गुजरात दौरे पर हैं। उन्होंने अलग-अलग विधानसभाओं में उत्तर भारतीय हिंदीभाषी समुदाय के बीच जाकर जनसभाएं और मुलाकात की।

दौरे के पहले दिन 13 नवंबर को अहमदाबाद जिले की अमराईवाड़ी विधानसभा में जनसभा की, इसके बाद विभिन्न समुदाय के प्रतिनिधियों से संवाद किया, ताबड़तोड़ प्रचार के सिलसिले को जारी रखते हुये देर शाम आणंद जिले की आणंद विधानसभा में अपने लोगों के बीच केरल भाजपा के अध्यक्ष के सुरेंद्रन के साथ मिलकर पार्टी के पक्ष मे माहौल बनाया और उसके बाद अहमदाबाद के वस्त्राल इलाके में जाकर जनता से मुलाकात कर कमल के फूल पर वोट देने की अपील की।

दौरे के दूसरे दिन यानि 14 नवंबर को अहमदाबाद में पंचमुखी हनुमान जी के दर्शन कर और संगठन के कई वरिष्ठ पदाधिकारियों से मुलाकात कर बापूनगर विधानसभा के सरसपुर में बीजेपी प्रत्याशी दिनेश कुशवाहा के पक्ष में जनसमर्थन हासिल किया।

गुजरात में रहने वाले हिंदीभाषी लोगों के बीच उप मुख्यमंत्री ने हर मंच से इस बार 150 पार का लक्ष्य लेकर चलने और इस बार अपना ही रिकॉर्ड तोड़कर बीजेपी की प्रचंड जीत हासिल करने की बात की।

मौर्य ने गुजरातियों और गुजरात में रहने वाले प्रवासियों को याद दिलाया कि कांग्रेस सिर्फ हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री का ही अपमान नहीं करती, परिवारवादी पार्टी ने लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल का भी अपमान किया है, विश्व की सबसे बड़ी पटेल साहब की मूर्ति पर आज तक एक भी कांग्रेसी नहीं गया। कांग्रेसियों ने मोदी के लिये हर बार अपनी कुंठा जाहिर करते हुए अपशब्दों का प्रयोग किया, इस बार भी कर रहे हैं। इसका जवाब गुजरात की जनता चुनावों में देगी। कांग्रेस का गुजरात में भी यूपी वाला हाल होगा।

मौर्य ने कहा कि आम आदमी पार्टी की हकीकत जनता समझ चुकी है, उनका राज्य में खाता भी नहीं खुलेगा और कांग्रेस के बड़े नेता तो नाव डूबने से पहले उछल कर हमारी नाव में आने को लालायित हैं तो पार्टी का हाल राज्य में समझा जा सकता है। चुनावी हिंदुओं की दाल अब गलने वाली नहीं है।

उन्होंने गुजरात की सम्मानित जनता को याद दिलाया कि आप लोगों ने अपने तत्कालीन मुख्यमंत्री को 2014 में लोकसभा लड़ने के लिए सोमनाथ की धरती से काशी विश्वनाथ भेजा था, उसके बाद यूपी की और देश की राजनीति में मोदी के नेत्रत्व में भाजपा ने बार बार जीत का इतिहास रचा है, फिर ये तो मोदी जा का अपना राज्य है यहां सालों साल, बार-बार जनता सिर्फ मोदी और बीजेपी को ही चुनना चाहती है। यहां प्रवासियों की भी अच्छी खासी संख्या है, हर व्यक्ति बीजेपी और मोदी के साथ है।

गौरतलब है कि गुजरात में बड़ी संख्या में प्रवासी मतदाता हैं जो कई सीटों पर निर्णायक स्थिति में है। प्रवासी मतदाता गुजरात राज्य में बीजेपी की जीत को प्रचंड जीत में बदल सकते हैं, यही वजह है कि उपमुख्यमंत्री मौर्य समेत यूपी के दिग्गज नेताओं की लगातार प्रत्याशियों के द्वारा संगठन से प्रचार के लिये मांग हो रही है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *