Coronavirus Update : कोरोना के मरीज 8 प्रतिशत संक्रमण दर से बढ़े, सक्रिय मामले तेरह हजार के पास

भोपाल, 28 मार्च : मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले पिछले लगभग तीन सप्ताह से लगातार बढ़ रहे हैं और अब संक्रमण दर (पॉजिटिविटी रेट) आठ प्रतिशत तक पहुंच गयी है, जो खतरनाक स्तर की मानी जाती है। इस बीच भोपाल समेत 12 शहरों और नगरों में शनिवार रात्रि से प्रारंभ हुआ लॉकडाउन सोमवार सुबह छह बजे तक रहेगा।

इन शहरों में सोमवार को होली के कारण लगायी गयीं बंदिशों के चलते लॉकडाउन जैसी स्थितियां ही रहेंगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी नागरिकों काे सचेत करते हुए कहा कि वे कोरोना की इस लहर को हल्के में नहीं लें और इसके बचाव के वर्तमान में बेहतर तरीकों जैसे मॉस्क का उपयोग, सोशल डिस्टेंसिंग और सेनीटाइजर का उपयोग बहुत जरुरी है और सभी इनका पालन करें।

राज्य में कल रात जारी किए गए बुलेटिन के अनुसार 26,701 सैंपल की जांच में आठ प्रतिशत संक्रमण दर से 2142 नए मरीज मिले हैं, जो अब तक कोरोना काल में एक दिन में सबसे अधिक संख्या है। हालाकि इन सैंपल में से 211 सैंपल रिजेक्ट भी किए गए। इसके अलावा कल राज्य में 10 संक्रमितों की मृत्यु भी दर्ज की गयी। वर्तमान में राज्य में सक्रिय मरीज बढ़कर 12995 हो गए हैं। यह संख्या लगभग एक माह पहले 1500 के आसपास थी।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार सबसे अधिक 619 मरीज इंदौर जिले में और 460 मरीज भोपाल जिले में मिले। इन दोनों स्थानों पर सक्रिय मरीजों की संख्या क्रमश: 2834 और 3455 है। इसके अलावा जबलपुर में 159 नए मरीज मिले और सक्रिय मामलों की संख्या 1005 है। राज्य के सभी 52 जिलों में सक्रिय मरीज बढ़ रहे हैं और कोरोना के नए मामलों में भी वृद्धि हो रही है। ग्वालियर में 67, खरगाेन में 39, सागर में 32, उज्जैन में 85, रतलाम में 76, बैतूल में 56, विदिशा में 58, नरसिंहपुर में 26 और छिंदवाड़ा में 36 नए मामले सामने आए हैं।

राज्य में कोरोना के कारण अब तक 3947 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। कुल 2,86,407 व्यक्ति संक्रमित हुए हैं और अब तक 2,69,465 व्यक्ति कोरोना को मात देने में सफल भी रहे हैं। कल अस्पताल से छुट्टी पाने वालों की संख्या 1175 है।

राज्य के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ राजेश राजौरा की ओर से कल रात जारी किए गए एक आदेश के तहत भोपाल, इंदौर, जबलपुर, बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगोन, रतलाम, ग्वालियर, उज्जैन, विदिशा, नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में शनिवार की रात्रि से जारी हुआ लॉकडाउन सोमवार सुबह छह बजे तक लागू रहेगा। इसके अलावा सोमवार को होली के कारण भीड़ रोकने अनेक पाबंदियां लगायी गयी हैं, जिनके चलते सोमवार को भी लॉकडाउन जैसी स्थिति रहेगी। इन शहरों में प्रत्येक रविवार को लॉकडाउन के निर्देश दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रतिदिन के क्रम में कल देर शाम भी कोरोना की स्थिति की उच्च स्तरीय बैठक में समीक्षा की। इसके बाद उन्होंने राज्य की जनता के नाम संदेश भी जारी किया और सबसे कोरोना से बचाव के लिए सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि यदि जनता का सहयोग नहीं मिला, तो भविष्य में स्थितियां बिगड़ सकती हैं और फिर सरकार को सख्त निर्णय भी लेने पड़ सकते हैं। हालाकि उन्होंने नागरिकों से यह भी कहा कि घबराने की आवश्यकता नहीं है। सरकार ने अस्पतालों में इलाज के लिए भी आवश्यक प्रबंध किए हैं।

श्री चौहान ने कहा कि सभी जिलों में निःशुल्क टेस्टिंग, इलाज और पलंग की पर्याप्त उपलब्धता है। शासकीय अस्पतालों, अनुबंधित निजी अस्पतालों एवं आयुष्मान योजना में चिन्हित अस्पतालों में कोरोना का निःशुल्क इलाज़ किया जा रहा है। निजी अस्पतालों के लिए भी फीस की सीमा निर्धारित की गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीनेशन कोरोना से बचने का प्रभावी तरीका है। अभी 60 वर्ष से अधिक उम्र वालों को और 45 से अधिक उम्र वालों (जिन्हें गंभीर रोग है) को टीका लगाया जा रहा है। आगामी 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों को भी टीके लगाए जाएंगे। उन्होंने निर्धारित कार्यक्रम अनुसार सभी पात्र लोगों से कोरोना का वैक्सीन लगवाने की अपील की है। अभी तक प्रदेश में 31 लाख व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

कल देर शाम की बैठक में बताया गया कि प्रदेश के अस्पतालों में कोरोना के इलाज़ के लिए 5961 सामान्य एवं 8184 ऑक्सीजन बेड्स उपलब्ध हैं। अभी 18 प्रतिशत (1092) सामान्य बेड्स एवं 29 प्रतिशत (2369) ऑक्सीजन बेड्स भरे हैं। 82 प्रतिशत सामान्य बेड तथा 71 प्रतिशत ऑक्सीजन बेड खाली हैं।

श्री चौहान ने कहा कि कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए यह आवश्यक है कि होली आदि उत्सव सभी लोग अपने परिवार के साथ घर पर ही मनाएं। बिना भीड़ किए परंपराएं एवं रस्में निभाएं, परंतु इसके लिए स्थानीय प्रशासन से आवश्यक स्वीकृति प्राप्त कर लें।

बैठक में यह भी बताया गया कि मध्यप्रदेश, देश में कोरोना संक्रमण के मामले में 6वें स्थान पर है। प्रदेश में कोरोना की संक्रमण दर (पॉजिटिविटी दर) 6.6 प्रतिशत है। प्रदेश के 15 ज़िलों में 20 से अधिक नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 619, भोपाल में 460, जबलपुर में 159, उज्जैन में 85, रतलाम में 76, ग्वालियर में 67, विदिशा में 58, बैतूल में 56, खरगोन में 39, छिंदवाड़ा में 36, सागर में 32, नरसिंहपुर में 26, देवास में 25, शहडोल में 25 तथा बुरहानपुर में 22 नए प्रकरण आए हैं। छिंदवाड़ा में गंभीर स्थिति के चलते चिकित्सा विशेषज्ञों का दल भेजे जाने के निर्देश दिए गए।

श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की पूरी तरह निगरानी की जाए, ताकि उनकी स्थिति पर नजर रखी जा सके।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *