Cryptocurrency : 2021 की टॉप क्रिप्टोकरेंसी जिसने 51,000% तक का दिया शानदार रिटर्न

नई दिल्ली। साल 2021 क्रिप्टो मार्केट के लिए बेहद ही खास रहा। रिटर्न देने के मामले में कुछ क्रिप्टोकरेंसी ने तो रिकॉर्ड तोड़ दिया। डिजिटल टोकन ने इस साल 30 बिलियन डॉलर का निवेश देखा और इस साल क्रिप्टो मार्केट 3 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच गया। विभिन्न रिपोर्टों के अनुसार, लगभग 15 मिलियन भारतीय रिटेल निवेशकों ने लगभग 6.6 बिलियन डॉलर के निवेश के साथ डिजिटल टोकन पर दांव लगाया है। चालू कैलेंडर वर्ष में लगभग 90 प्रतिशत घरेलू रिटेल निवेशकों को जोड़ा गया। मार्केट जानकारों का कहना है कि भारत में इस तकनीक का तेजी से विकास हो रहा है।

क्रॉसओवर इंडिया के सीईओ विकास आहूजा ने कहा, “भारत में क्रिप्टोकरेंसी को लेकर अनिश्चितताओं के बावजूद, डिजिटल संपत्ति की दर इंटरनेट की तुलना में लगभग दोगुनी तेजी से बढ़ रही है।” अक्टूबर 2021 में जारी Chainalysis की रिपोर्ट के अनुसार, भारत डिजिटल अपनाने के मामले में दूसरे स्थान पर रहा। वहीं, क्रिप्टो अपनाने में भारत को 154 देशों में से 11 वें स्थान पर है। मुड्रेक्स के सीईओ और सह-संस्थापक एडुल पटेल ने कहा कि इस साल क्रिप्टोकरेंसी निवेशकों के लिए रोलर-कोस्टर सवारी की रही है। इस साल मीम्स कॉइन और मेटैवर्स क्रिप्टोकरेंसी बाजार में टॉप buzzwords थे।

बाजार पूंजीकरण के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टो करेंसी, बिटकॉइन इस साल काफी समय तक सीमित रहा। मुड्रेक्स के आंकड़ों के अनुसार, गाला लगभग 51,000 प्रतिशत रिटर्न के साथ चार्ट में सबसे ऊपर है। एक्सी इन्फिनिटी (एएक्सएस) में करीब 19,000 फीसदी की तेजी आई है, जबकि सैंडबॉक्स (सैंड) में 15,000 फीसदी की तेजी आई है। एक्सचेंज के आंकड़ों में कहा गया है कि पॉलीगॉन, टेरा, सोलाना, फैंटम, कडेना, हार्मनी और Decentraland (MANA) ने 2021 में 5,000 और 13,000 प्रतिशत के बीच रैली की। आहूजा ने कहा, “हमारे आंकड़ों से टेरा (लूना) सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला रहा, क्योंकि इसने निवेशकों को लगभग 15,000 फीसदी का रिटर्न दिया।”

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *