Cyclone Tauktae Update: तौकते तूफान हुआ विकराल, कर्नाटक में चार की मौत

नई दिल्ली/मुंबई/बेंगलुरु/पणजी। अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान तौकते विकराल होकर गुजरात तट की ओर बढ़ रहा है। यह गुजरात के साथ ही केंद्रशासित प्रदेश ‘दमन एवं दीव और दादरा एवं नगर हवेली’ में भी कहर बरपा सकता है। तूफान के चलते महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में भारी बारिश की आशंका है, जबकि केरल और तमिलनाडु में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। कर्नाटक के तटीय इलाकों से लेकर गोवा तक बारिश और तेज हवाओं से बड़े नुकसान की खबर है। कर्नाटक में वर्षाजनित हादसों में चार लोगों की मौत हो गई है।

तौकते के संभावित खतरों से निपटने को लेकर रविवार को पूर्वाह्न 11.30 बजे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र एवं गोवा के मुख्यमंत्रियों और केंद्रशासित प्रदेश ‘दमन एवं दीव और दादरा एवं नगर हवेली’ के प्रशासक के साथ ऑनलाइन बैठक कर पूर्व तैयारियों की समीक्षा की। कैबिनेट सचिव राजीव गौबा भी सभी तटीय राज्यों के मुख्य सचिवों, संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों और एजेंसियों के लगातार संपर्क में हैं। गृह मंत्रालय स्थिति की लगातार समीक्षा कर रहा है और राज्य सरकारों एवं संबंधित केंद्रीय एजेंसियों के संपर्क में है।

कैबिनेट सचिव गौबा ने संकट प्रबंधन समिति की बैठक में संबंधित राज्यों को सभी संभव सहायता देने का भरोसा दिया है। उन्होंने प्राकृतिक आपदा से होने वाली जनहानि को रोकने के लिए लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने को कहा। बैठक में तमिलनाडु, केरल, गोवा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात के मुख्य सचिव, केंद्रशासित प्रदेशों- लक्षद्वीप और दमन दीव एवं दादरा नगर हवेली के प्रशासकों के सलाहकार और संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों के सचिवों ने भाग लिया।

राजीव गौबा ने कहा कि लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पहली प्राथमिकता होनी चाहिए ताकि तूफान से किसी भी तरह की जनहानि न हो। इसके अलावा आवश्यक सेवाओं जैसे बिजली, पानी, संचार आदि को नुकसान से बचाने और नुकसान होने पर शीघ्र बहाली करने जैसे विषयों पर भी चर्चा की और निर्देश दिए। एनडीआरएफ ने प्रभावित राज्यों में 72 टीमें तैनात की हैं। इसके अलावा 22 टीमें राहत एवं बचाव कार्यों में शामिल होने के लिए तैनात हैं। वायुसेना, नौसेना और कोस्ट गार्ड की भी टीमें एवं जहाज तथा हेलीकॉप्टर सहायता में जुटे हैं।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक तौकते तूफान के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और सोमवार की शाम तक गुजरात तट पर पहुंचने की प्रबल संभावना है। यह मंगलवार को तड़के गुजरात के तटीय जिलों- पोरबंदर, भावनगर, अम्रेली और जूनागढ़ के तट से टकराएगा। मंगलवार (18 मई) तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार हैं जबकि इस दौरान कुछ समय के लिए हवा की गति 165 किमी प्रति घंटे को भी पार कर सकती है। दक्षिण महाराष्ट्र और गोवा तथा इससे सटे हुए कर्नाटक के तटीय इलाकों में हवा की गति 70 से 90 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है। हवा की गति महाराष्ट्र के तट पर सोमवार से मंगलवार की सुबह तक 65-85 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है। जूनागढ़ के तटीय इलाकों में तीन मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं।

महाराष्ट्र में बारिश से नहीं, तेज हवाओं से नुकसान की आशंका
तौकते के मद्देनजर मुंबई शहर के निचले इलाकों में स्थित विभिन्न अस्पतालों से 580 कोरोना मरीजों को बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अन्य अस्पतालों में शिफ्ट किया गया है। इनमें बांद्रा-कुर्ला-कांप्लेक्स कोविड केयर सेंटर के 243, दहिसर के 183 और मुलुंड के 154 कोरोन मरीज शामिल हैं। तौकते से बचाव के लिए बीएमसी ने बड़े पैमाने पर इंतजाम किये हैं। शहर की सभी 6 चौपाटियों पर आपदा प्रबंधन की टीम तैनात कर दी गई हैं। सुरक्षा के मद्देनजर बांद्रा-वर्ली सी लिंक रोड को बंद कर दिया गया है।

इस बीच, बीएमसी महापौर किशोरी पेडणेकर ने बीएमसी आपदा नियंत्रण कक्ष का दौरा कर चक्रवात से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने तूफान से पूरी तरह तैयार रहने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए हैं। बीएमसी ने मुंबई के निचले इलाकों में जल भराव की संभावना के मद्देनजर पंप की व्यवस्था की है। साथ ही समुद्र तटीय इलाकों में मछुआरों को समुद्र में न जाने की चेतावनी दी गई है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के उप-महानिदेशक जयंत सरकार के मुताबिक मुंबई में रविवार और सोमवार को भारी बारिश की आशंका है जबकि मंगलवार को मध्यम बारिश होगी। मुंबई में आज और कल 60-70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। बारिश से ज्यादा नुकसान नहीं होगा लेकिन तेज हवाओं से नुकसान होने की संभावना है।

गोवा में बिजली आपूर्ति ठप
गोवा के कई हिस्सों में रविवार को तेज हवाएं चल रही हैं और भारी बारिश हो रही है। इसकी वजह से बिजली के सैकड़ों खंभे उखड़ गए और कई इलाकों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई है। हालांकि अब तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। ऊर्जा मंत्री एन. कैब्राल के मुताबिक तेज हवाओं के कारण अधिकतर इलाकों में बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई है। चक्रवाती तूफान से भारी नुकसान की खबर है।

कर्नाटक में तेज बारिश से 77 गांव प्रभावित
केरल में शनिवार को भारी बारिश की शुरुआत के बाद अब कर्नाटक के तटीय इलाकों से लेकर गोवा तक बारिश और तेज हवाओं ने बड़ा कहर बरपाया है। कर्नाटक में भारी बारिश के बाद हुए विभिन्न हादसों में चार लोगों की मौत हुई है। राज्य के 77 से अधिक गांव प्रभावित हुए हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने तटीय इलाकों में तबाही की आशंका के मद्देनजर जिले के प्रभारी मंत्रियों तथा उपायुक्त को प्रभावित जिलों में दौरा करने और राहत एवं बचाव कार्य शुरू करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य सरकार से किसी भी आपात सहायता की जरूरत पड़ने पर संबंधित मंत्रियों या उन्हें फोन करें।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES