David Warner : मुझे हमेशा से खुद पर भरोसा था : वार्नर

दुबई, 15 नवंबर । न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 विश्व कप के फाइनल में 53 रनों के बेहतरीन अर्धशतकीय पारी खेल ऑस्ट्रेलिया को पहली बार टी-20 विश्व कप का खिताब दिलाने वाले सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने कहा कि उन्हें हमेशा से खुद पर भरोसा था और उन्होंने बस अपना बेसिक्स मजबूत रखा।

बता दें कि न्यूजीलैंड द्वारा दिये गए 173 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने मिशेल मार्श (77) और डेविड वार्नर (53) के बेहतरीन अर्धशतकीय पारियों की बदौलत सात गेंदें शेष रहते 8 विकेट से जीत दर्ज कर अपना पहला टी20 विश्व कप खिताब हासिल किया। वार्नर को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया।

मैच के बाद वार्नर ने कहा, ‘‘मुझे हमेशा से खुद पर भरोसा था और मैने बेसिक्स मजबूत रखने के साथ कड़ी विकेटों पर बल्लेबाजी का खूब अभ्यास किया। यह शानदार टीम है, बेहतरीन सहयोगी स्टाफ है और दुनिया भर में लाजवाब समर्थक भी हैं । हम हमेशा उनके लिये बेहतरीन खेलना चाहते हैं और हमें खुशी है कि आज ऐसा कर सके।’’

फाइनल मुकाबले में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में चार विकेट गंवाकर 172 रन बनाए। टीम की ओर से कप्तान केन विलियमसन ने 48 गेंदों पर 85 रन की पारी खेली। उनके अलावा मार्टिन गुप्टिल ने 35 गेंदों पर 28 रन, डेरिल मिचेल ने 11 रन व ग्लेन फिलिप्स ने 18 रन बनाये। वहीं, जेम्स नीशम 13 रन और टिम सीफर्ट 8 रन बनाकर नाबाद रहे। ऑस्ट्रेलिया की ओर से जोश हेजलवुड ने सबसे ज्यादा तीन विकेट और एडम ज़म्पा ने एक विकेट लिया।

जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 18.5 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत खराब रही। कप्तान एरोन फिंच पांच रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर आउट हुए। हालांकि, इसके बाद डेविड वार्नर और मिचेल मार्श ने पारी संभाली और दूसरे विकेट के लिए 59 गेंदों पर 92 रन की साझेदारी कर डाली। वार्नर 38 गेंदों पर 53 रन बनाकर आउट हुए।

इसके बाद मार्श ने मैक्सवेल के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 63 रन की नाबाद साझेदारी की और टीम को चैंपियन बनाया। मार्श 50 गेंदों पर 77 रन और मैक्सवेल 18 गेंदों पर 28 रन बनाकर नाबाद रहे। न्यूजीलैंड की ओर से बोल्ट ने दो विकेट लिए।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *