Delhi Government: दिल्ली सरकार ने 1.34 करोड़ वैक्सीन खरीदने की दी मंजूरी: केजरीवाल

नयी दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को निःशुल्क वैक्सीन लगवाने की घोषणा की है और दिल्ली सरकार ने 1.34 करोड़ वैक्सीन खरीदने को मंजूरी दे दी है।

श्री केजरीवाल ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा,“ हम जल्द से जल्द वैक्सीन खरीद कर बड़े पैमाने पर पूरी दिल्ली में वैक्सीनेशन करने की योजना बना रहे हैं। ऐसा देखा गया है कि वैक्सीन लेने वालों को या तो कोरोना नहीं होता है या जिन्हें होता है, तो उनकी बीमारी गंभीर नहीं होती है। वैक्सीन निर्माता दो कंपनियों ने केंद्र को 150 रुपए में और राज्य सरकारों को 400 और 600 रुपए में वैक्सीन देने की बात कही है, जबकि इसके दाम एक होने चाहिए। यह समय लाभ कमाने का नहीं, बल्कि इंसानियत की मदद करने का है। मुझे उम्मीद है कि वैक्सीन निर्माता खुद ही इसकी कीमत 150 रुपए पर ले आएंगे। उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की कि अगर जरूरत पड़े, तो वैक्सीन की कीमत को नियंत्रित और कम किया जाए। उन्होंने बताया कि 150 बेड के साथ आज राधा स्वामी सत्संग ब्यास कोविड सेंटर शुरू हो गया है। इसे पांच हजार बेड तक बढ़ाया जाएगा। ”

मुख्यमंत्री ने कहा, “ जैसा हम देख रहे हैं कि देश भर में कोरोना वायरस का बहुत जबरदस्त कहर छाया हुआ है और इस कोरोना काल में सबको लग रहा है कि इसका समाधान एक ही है, वह है वैक्सीन। दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि 18 साल से ऊपर की उम्र के लोगों को मुफ्त वैक्सीन दी जाएगी। इसको जल्द से जल्द और बड़े स्तर पर लोगों को कैसे दिया जाए, इसका पूरा प्लान तैयार किया जा रहा है। आज सुबह हम लोगों ने दिल्ली में एक करोड़ 34 लाख वैक्सीन खरीदने की मंजूरी दी है। हम कोशिश करेंगे कि जल्द से जल्द वैक्सीन खरीदी जाए और लोगों को लगाई जाए। इस महामारी में वैक्सीन एक समाधान निकल कर आ रही है। जिन लोगों को वैक्सीन लगी है, उनको कोरोना नहीं होता है या जिनको होता है, उन लोगों को माइल्ड होता है। उनमें से अधिकतर लोगों को अस्पताल की जरूरत नहीं होती और अगर अस्पताल की जरूरत पड़े भी तो उनकी बीमारी गंभीर नहीं होती है, ऐसा देखने में आया है। अगर सभी को वैक्सीन लग जाए, तो कोरोना एक सामान्य बीमारी की तरह हो जाएगी। अगर वैक्सीन लेने के बाद यह बीमारी होगी भी, तो ठीक हो जाएगी। ”

उन्होंने कहा कि इंग्लैंड में अभी कुछ महीने पहले तक कोरोना वायरस का जबरदस्त कहर था, जैसा कि अभी भारत के अंदर है। वहां उन्होंने बहुत बड़े स्तर पर अपने लोगों को वैक्सीन लगाई। कोरोना वायरस के अंदर उस लहर के खत्म होने का बहुत बड़ा कारण एक्सपर्ट वैक्सीन को मानते हैं कि जिस अाक्रामकता के साथ इंग्लैंड में कोरोना वैक्सीन लगाई गई, कोरोना की लहर को खत्म करने में उसका बड़ा योगदान रहा।”

श्री केजरीवाल ने कहा, “वैक्सीन के एक निर्माता ने कहा है कि वह राज्य सरकारों को 400 रुपए में वैक्सीन देंगे। दूसरे निर्माता ने कहा है कि वह राज्य सरकारों को 600 रुपए में देंगे। साथ ही दोनों निर्माताओं ने कहा है कि वे केंद्र सरकार को 150-150 रुपए देंगे। मेरा मानना है कि इसकी एक ही कीमत होनी चाहिए, अलग-अलग कीमत नहीं होनी चाहिए। मैं उनमें से एक निर्माता का इंटरव्यू देख रहा था, जो कह रहा था कि जब वे केंद्र सरकार को 150 रुपए में वैक्सीन दे रहे हैं, तो उसमें भी उनको फायदा हो रहा है। जब 150 रुपए में भी उनको फायदा है और उसमें कोई नुकसान नहीं है, तो 400 रुपए में और 600 रुपए में तो बहुत ज्यादा फायदा है। ”

मुख्यमंत्री ने कहा, “ यह समय इंसानियत की मदद करने का है। यह लाभ कमाने का समय नहीं है। देश भर के अंदर केंद्र सरकार ने कई दवाइयों की कीमत के ऊपर नियंत्रण लगाए। अलग-अलग राज्य सरकारों ने हॉस्पिटल के शुल्क के ऊपर नियंत्रण लगाए कि अस्पताल इससे ज्यादा दाम नहीं ले सकते। इस समय सारा देश मिल कर कोरोना की लड़ाई लड़ रहा है। मैं वैक्सीन निर्माताओं से अपील करता हूं कि वे खुद-ब-खुद वैक्सीन की कीमत को 150 रुपए पर ले आएं। लाभ कमाने के लिए पूरी जिंदगी पड़ी है। इस समय कोरोना की महामारी जब इतने बड़े स्तर पर फैली हुई है, तो लोगों से लाभ कमाने का समय नहीं है। मैं केंद्र सरकार से भी अपील करता हूं कि अगर जरूरत पड़े, तो इस पर नियंत्रण किया जाए और वैक्सीन की कीमत को कम किया जाए। ”

उन्होंने कहा, “इस समय हम लोग दिल्ली में बहुत बड़े स्तर पर ऑक्सीजन बेड बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। आज सुबह मैंने राधा स्वामी सत्संग ब्यास का दौरा किया था। वहां पर कोविड सेंटर बनाया गया है, मैने उसका मुआयना किया है। आज पूर्वाह्न 10 बजे इस केंद्र को कोविड मरीजों के लिए खोल दिया गया है। यहां पर करीब 500 बेड शुरू किए जा रहे हैं। आज अभी 150 बेड हैं, लेकिन अगले एक-दो दिन में 500 बेड हो जाएंगे। उसके दो-चार दिन के अंदर दो हजार बेड और फिर पांच हजार बेड तक ले जाया जाएगा। इसके साथ राधा स्वामी सत्संग में ही 200 बेड का आईसीयू बेड भी तैयार कर रहे हैं। इसी तरह से पूरे दिल्ली के अंदर कई जगह ऑक्सीजन बेड की सुविधा बढ़ाई जा रही है। मैं उम्मीद करता हूं कि इससे जनता को काफी फायदा होगा। ”

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *