Delhi News Update : आम आदमी पार्टी के वादे पर कांग्रेस पार्टी ने उठाया सवाल

Insight Online News

केजरीवाल सरकार जहां झुग्गी वहीं मकान देने की बात पिछले 6 वर्षों से कह रही है परंतु बजट में सिर्फ 1060 झुग्गियों को आवंटन की बात कह रहे है जबकि कांग्रेस की दिल्ली सरकार द्वारा बनाऐ गए 64000 फ्लैटों के आवंटन नही कर रहे है।

इससे बड़ा धोका और क्या हो सकता है sisodia जीं। एक तरफ़ तो आप अलिम्पिक्स की बात करते हो दूसरी तरफ़ आप खेलों का बजट 41.67% कम कर देते हो।

2020-21 में बजट एस्टिमट 284.76 करोड़ था, जो इस वर्ष घटा कर 166.11 करोड़ कर दिया।
यहाँ तक कि RE भी 93.04 करोड़ किया था।

DelhiBudget2021

बहुत ही शर्मनाक कदम केजरीवाल सरकार का , जिस दिल्ली के खिलाड़ी हमेशा योगदान देते रहे हैं उनका बजट कम कर देना इस बात का सूचक है केजरीवाल सरकार खेल के विकास को लेकर बिलकुल सीरियस नही है और धोका दे रही है

दिल्ली सरकार प्रत्येक वर्ष बजट में नया शगूफा लेकर आती है, विकास के नाम पर कुछ नही कर रही। युवाओं को 10 ओलम्पिक मैडल लाने का सपना दिखाते है, लेकिन युवा और खेल के मद में बजट 285 करोड़ से कम करके 166 करोड़ कर दिया है।

अरविन्द केजरीवाल दिल्ली में बेरोजगारी और गरीबी को वर्तमान में दूर करने की बजाय लोगों को 25 वर्ष बाद का सपना दिखा रहे है। वरिष्ठ नागरिकों को पेन्शन के रुप में मासिक आर्थिक सहायता देने में भी इनकी संख्या 4.65 लाख से घटकर 4.49 लाख रह गई हैं।

बजट में फिर एक बार 1000 नई बसें और 1300 इलेक्ट्रिक बसें लाने की घोषणा सिर्फ पिछले 6 वर्षों की तहर घोषणा बनकर रह जाएगी।

नेशनल सोशल मीडिया कोऑर्डिनेटर विद कांग्रेस

एडवोकेट गीत सेठी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *