Demand to regularize buildings in Ranchi : रांची में भी बने सभी भवनों को नियमित करे सरकार : संजीव विजयवर्गीय

Insight Online News

रांची। डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने एक बार फिर से रांची शहर में पूर्व में बने सभी भवनों का नक्शा नियमित करने की मांग की है। डिप्टी मेयर ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मुख्य सचिव और नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव से मुलाकात कर इस मामले के निदान के लिए वह लगातार प्रयासरत रहे हैं लेकिन किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा रही है। कहा कि पिछले कई दिनों से रांची शहर में नगर निगम के द्वारा पुराने भवनों को भी नोटिस दी जा रही है।

इससे पूरे शहर में भय का माहौल है। संजीव विजयवर्गीय ने कहा कि भवनों को नियमित करने के लिए एक सरल फॉर्मेट तैयार करने की जरूरत है ताकि शहर के वैसे मकान जो अतिक्रमण की जद में नहीं आते हैं उसे नियमित किया जा सके। उन्होंने बताया कि विभाग से भी लगातार पत्राचार किया गया है ताकि रांची ही नहीं पूरे झारखंड में ऐसे मकान जिनका नक्शा पूर्व में पास नहीं है वह नियमित हो जाए।

डिप्टी मेयर ने कहा कि भवन नियमित करने का शुल्क वर्तमान में ₹1000 प्रति वर्ग फीट है। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या बिल्डिंग बाइलॉज के इस नियम के तहत लोग इसे दे पाएंगे। आज मकान बनाने की कीमत 1000 प्रति वर्ग फीट है उतना ही सरकार फाइन लगाकर डेविएशन या नया भवन को रेगुलराइज करेगी। ऐसे में क्या ऐसे नियम से कोई आम व्यक्ति इसे कराने के लिए निगम में आएगा।

संजीव विजयवर्गीय ने कहा कि 1974 के पूर्व में क्या कोई एजेंसी थी जो नक्शा बनाती थी। बिल्डिंग बायलॉज में भी इसका उल्लेख है कि 1974 के पहले के भवनों पर यह नियम लागू नहीं होता है तो फिर इस तरह की कार्रवाई क्यों की जा रही है। उन्होंने सरकार से इस विषय में संज्ञान लेते हुए जल्द से जल्द पुराने भवनों को नियमित करने के लिए नियमावली बनाने की भी मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *