संक्रांति पर श्रद्धालुओं ने गंगा में लगाई आस्था की डुबकी

ऋषिकेश, 14 जनवरी । देश भर के साथ देवभूमि ऋषिकेश में भी मकर संक्रांति का पर्व आस्था पूर्वक मनाया गया। ठंडे मौसम के बावजूद हजारों श्रद्धालुओं ने त्रिवेणी घाट सहित राम झूला औरलक्षमण झूला क्षेत्र के विभिन्न घाटों पर हर हर गंगे के उद्घोषों के बीच आस्था की डुबकी लगाई। इस दौरान अन्न और दक्षिणा का दान पुण्य का क्रम भी अनवरत दिनभर चलता रहा।

लोहड़ी पर्व के बाद शनिवार का दिन मकर संक्रांति के महापर्व के नाम रहा। पर्व पर हजारों श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान कर भिक्षुओं को दान देकर पुण्य लाभ अर्जित किया। त्रिवेणी घाट पर गंगा सभा और पंडित वेद प्रकाश शास्त्री , षडदर्शन साधु समाज एवं अखिल भारतीय सनातन धर्म रक्षा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र गिरी और महंत गोपाल गिरी द्वारा इस अवसर पर श्रद्धालुओं को खिचड़ी के प्रसाद के साथ गरीबों में कंबलों का वितरण भी किया गया।

तीर्थ नगरी में मकर संक्रांति के अवसर पर देश के विभिन्न प्रांतों के साथ दूरदराज क्षेत्रों से आए हजारों श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा में हर हर गंगे जय मां गंगे के घोष के साथ डुबकी लगाई और विभिन्न मंदिरों में दर्शन कर पूजा-अर्चना की। मकर सक्रांति के पर्व पर तड़के से ही श्रद्धालुओं का त्रिवेणी घाट पर पहुंचना शुरू हो गया था। श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान के बाद दान पुण्य किया तथा यहां के पौराणिक मंदिरों में दर्शन पूजन कर धर्म लाभ उठाया। इस दौरान आश्रमों में खिचड़ी का प्रसाद भी वितरित किया गया। सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर तीर्थ नगरी के तमाम महत्वपूर्ण स्थानों पर पुलिस फोर्स तैनात रही।

( हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *