Dhanteras Market : धनतेरस पर बाजारों में उमड़े ग्राहक, 300 करोड़ के कारोबार का अनुमान !

Insight Online News

रांची। राज्य में धनतेरस के त्यौहार पर इस बार सच में धन की वर्षा हुई। कोरोना की वजह से दो वर्षों से बाजार पर लगा ग्रहण थोड़ा छंटा हुआ दिखा है। इस बार कोविड-19 का प्रकोप कम होने के कारण बाजारों में जमकर भीड़ उमड़ी है। ग्राहक खुलकर दुकानों में पहुंचे। सोने, चांदी, पीतल, कांसे और यहां तक कि स्टील के बर्तनों की भी जम कर खरीदारी हुई है। इन सबके अलावा बाजार में बड़े पैमाने पर पूजा के बर्तन भी खरीदे गए हैं। व्यापारियों के मुताबिक इस बार का बाजार 300 करोड़ के करीब रहने का अनुमान है। जो पिछले साल की तुलना में 10-15% कम हैं। फोर व्हीलर में जहां इस बार डिमांड के मुताबिक कार की सप्लाई नहीं हो सकी तो टूव्हीलर में इस बार ग्राहकों की भीड़ उम्मीद से कम रही।

व्यापारियों के अनुसार पिछले दो दिनों से बाजार पूरा ठंडा पड़ा हुआ था। मंगलवार को धनतेरस के दिन दोपहर तक भी ऐसा लग रहा था कि बाजार में रौनक नहीं रहेगी। लेकिन 3:00 के बाद उमड़ी भीड़ ने दुकानदारों के होश उड़ा दिए।

सर्राफा कारोबारी इस बार के कारोबार से संतुष्ट दिख रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि इस बार बिक्री का आंकड़ा 80 करोड़ के पार पहुंच सकता है। तनिष्क के एरिया मैनेजर अभिषेक सिंह ने बताया कि कोविड के बाद बड़ी संख्या में लोग सर्राफा में निवेश कर रहे हैं। सर्राफा व्यापारियों ने बताया कि इस बार सोने और चांदी के सिक्कों की खूब डिमांड रही।

सोना विक्रेताओं के अनुसार इस बार ब्रांडेड कंपनियों के अलावा छोटे व्यापारियों ने भी अच्छा खासा व्यापार किया है। उम्मीद जताई जा रही है कि धनतेरस के दिन लगभग तीन करोड रुपये के सोने का व्यापार रांची में हुआ है। इसके अलावा चांदी, तांबा, कांसा, स्टील, इलेक्ट्रॉनिक गुड्स और मोबाइल विक्रेताओं के द्वारा भी अच्छी कमाई की गई है। शहर में धनतेरस के बाजार के दौरान लगभग छह घंटे सड़क पर पूरी तरीके से जाम रहा।

हीरों के आभूषण की बिक्री में 20% का उछाल
तनिष्क के एरिया मैनेजर अभिषेक सिंह ने बताया कि इस बार हीरे के आभूषण में 20% का उछाल दर्ज किया गया है। इसके अलावा शादी की ज्वेलरी की भी लोग खूब खरीदारी कर रहे हैं। अभिषेक सिंह ने बताया कि लोगों का सोने में निवेश का एक सबसे बड़ा कारण ये भी है कि रिटर्न अच्छा रह रहा है। स्टेबल होने के बाद इसके और बेहतर पर फॉर्मेंस की उम्मीद है। इसके अलावा रेट भी अभी लोगों के मनमुताबिक है।

डिमांड के मुताबिक सप्लाई नहीं होने से 20% गिरा फोर व्हीलर का बाजार
रांची में मारूति के डीलर पुनित पोद्दार ने दैनिक भास्कर बताया कि इस बार भी फोर व्हीलर की खूब डिमांड है। उन्होंने बताया कि धनतेरस के मौैके पर उनके यहां से लगभग 1200 गाड़ियों की बुकिंग हुई है। इसके अलावा भी खूब डिमांड थी लेकिन सेमी कंडक्टर की कमी के कारण इंडस्ट्री में आई परेशानी से सप्लाई में थोड़ी सी कमी आई है। ह्यंडई के प्रवीण मोदी ने बताया कि उनके पास 175 गाड़ियों की डिमांड है

लेकिन वे 80-90 गाड़ियां ही डेलिवर्ड कर पाए।
टू व्हीलर्स की बिक्री में गिरावट,शोरूम में फुटफॉल भी कम रहा
ऑटोमोबाइल सेक्टर में एक तरफ जहां फोर व्हीलर्स की खूब डिमांड रही तो दूसरी तरफ टूव्हीलर्स के कारोबार में गिरावट आई है। रांची में होराइजन होंडा के सुमित जैन ने दैनिक भास्कर को बताया कि टू व्हीलर्स की बिक्री में इस बार 20-25% की गिरावट आई है। यह अब तक का सबसे खराब परफॉर्मेंस है। लगभग सभी सेग्मेंट की टूव्हीलर्स में ये कमी दर्ज की गई है।

होम एप्लाइंसेज की बिक्री बढ़ी, टीवी का बाजार हुआ सुस्त
बर्तन के अलावा इस बार होम एप्लाइंसेज की भी अच्छी बिक्री हो रही है। सैमसंग के एरिया मैनेजर ऋषभ ने दैनिक भास्कर को बताया कि इस बार फ्रिज, वाशिंग मशीन की डिमांड उम्मीद से बेहतर रही। अचानक बाजार में उछाल आया है। भारत इलेक्ट्रॉनिक्स के गयासुद्दीन ने दैनिक भास्कर को बताया कि पिछले 3-4 दिनों में बिक्री में उछाल आया है। पिछले साल की तुलना में इस बार लगभग 15-20% का ग्रोथ दर्ज किया गया है। हालांकि टीवी व माइक्रोवेब ओवन की बिक्री में गिरावट दर्ज की गई है।

बर्तन में पीतल की चमक रही बरकरार
बर्तन का बाजार भी इस बार औसत के मुताबिक अच्छा रहा। मेन रोड काली मंदिर के पीछे बर्तन दुकानदार ने बताया कि कोविड के बाद जिस तरह की उम्मीद की जा रही थी बाजार उससे बेहतर रहा है। स्टील की जरूरत की बर्तनों के अलावा इस बार भी पीतल के बर्तन की बाजार में खूब डिमांड रही। इस बार पीतल के बर्तन 900-1100 रुपए किलो तक बिके।

शुभ मुहूर्त पर 150 से प्रॉपर्टी की हुई रजिस्ट्री
धनतेरस के शुभ मुहूर्त पर प्रॉपर्टी की भी खूब रजिस्ट्री हुई। रांची रजिस्ट्री ऑफिस से मिली जानकारी के मुताबिक शुभ घढ़ी पर लगभग 150 प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन हुआ है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *