Durga Puja Update : 4 फीट से ऊंची नहीं होगी मां दुर्गा की प्रतिमा, पंडाल में एक बार में सिर्फ 7 लोग करेंगे दर्शन : डीसी

रामगढ़, 12 अक्टूबर : जिला समाहरणालय सभागार में उपायुक्त संदीप सिंह एवं एसपी प्रभात कुमार की अध्यक्षता में दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर शांति समिति के सदस्यों, विभिन्न दुर्गा पूजा समितियों के सदस्यों, पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की गई।

बैठक के दौरान डीसी एवं एसपी ने सबसे पूर्व शांति समिति एवं जिला अंतर्गत विभिन्न दुर्गा पूजा समितियों के सदस्यों को इस बार कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए जारी किए गए गाइडलाइन की विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक ने सभी को बताया कि इस बार सार्वजनिक रूप से दुर्गा पूजा का आयोजन नहीं किया जाना है। बल्कि इसके जगह लोग ज्यादा से ज्यादा अपने घरों में रहकर, मंदिरों में अथवा जहां परंपरागत रूप से दुर्गा पूजा करें। केवल छोटे पंडाल का निर्माण किया जाए एवं वहां भीड़ ना इकट्ठा होने के उद्देश्य से उसे चारों तरफ से ढंक दिया जाए। किसी भी परिस्थिति में एक समय में पंडाल के अंदर 7 व्यक्तियों से अधिक को अंदर रहने की अनुमति नहीं होगी एवं प्रतिमाओं का आकार भी 4 फीट से ऊंचा नहीं होगा।

कोरोना को ध्यान में रखते हुए ऐसा कोई भी कार्य नहीं किया जाएगा, जिससे कि एक जगह पर भीड़ इकट्ठा हो। इसमें प्रमुख रुप से किसी भी प्रकार के लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं किया जाना, सामूहिक रूप से प्रसाद या भोग का वितरण समारोह आयोजित ना किया जाना शामिल है।

डीसी एवं एसपी ने सभी को बताया कि दुर्गा पूजा के आयोजन को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा सोशल मीडिया पर विशेष नजर रखी जाएगी। किसी भी व्यक्ति के द्वारा सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने अथवा अफवाह फैलाने जैसे कार्यों को करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सभी पुलिस पदाधिकारियों, प्रखंड विकास पदाधिकारियों एवं अंचल अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित रूप से भ्रमण कर सभी जगहों जहां पर दुर्गा पूजा के आयोजन के लिए तैयारियां की जा रही हैं कि सूची तैयार करते हुए सभी से सरकार द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन का शत प्रतिशत अनुपालन कराने का निर्देश दिया। दुर्गा पूजा समिति के सदस्यों को सभी गाइडलाइंस के पालन से संबंधित अंडरटेकिंग पर हस्ताक्षर कर जिला प्रशासन को देना होगा।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *