कोरोना से निपटने के लिए प्रभावी जांच, उपचार, ट्रेसिंग और निगरानी जरूरी: मोदी

नयी दिल्ली 23 सितम्बर : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है और इससे निपटने के लिए प्रभावी जांच, ट्रेसिंग, उपचार, निगरानी और स्पष्ट संदेश के माध्यम से जागरूकता फैलाने पर फोकस बढ़ाना होगा।

प्रधानमंत्री ने साथ ही एक या दो दिन की स्थानीय पूर्णबंदी लगाने वाले राज्यों से इस बारे में फिर से विचार करने को कहा है और यह विश्लेषण करने को कहा है कि कहीं इससे उनके राज्य में आर्थिक गतिविधियां शुरू होने में दिक्कत तो नहीं आ रही है। उन्होंने मास्क के इस्तेमाल पर भी बहुत अधिक जोर दिया।

श्री मोदी ने देश में कोरोना संक्रमण के सबसे अधिक मामलों वाले सात राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ आज वीडियो कांफ्रेन्स के माध्यम से चर्चा की। इन राज्यों में महाराष्ट्र, कर्नाटक, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश तथा पंजाब शामिल हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस चर्चा के दौरान अनेक ऐसी बातें सामने आई हैं, जिनसे आगे की रणनीति के लिए रास्ता और अधिक स्पष्ट होता है। उन्होंने कहा कि यह सही है कि भारत में संक्रमण के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। लेकिन हर रोज 10 लाख से ज्यादा टेस्ट भी किये जा रहे हैं और ठीक होने वालों की संख्या भी तेज़ी से बढ़ रही है।

अनेक राज्यों में और राज्यों के भीतर स्थानीय स्तर पर भी श्रेष्ठ अनुभव सामने आ रहे हैं। इन अनुभवों को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित करना होगा।

उन्होंने कहा कि बीते महीनों में कोरोना के इलाज से जुड़ी जिन सुविधाओं का विकास हुआ है उससे कोरोना के मुकाबले में बहुत मदद मिली है। उन्होंने कहा , “ अब हमें एक तरफ जहां कोरोना से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को तो मजबूत करना ही है, जो हमारा हेल्थ से जुड़ा, ट्रैकिंग और ट्रेसिंग से जुड़ा नेटवर्क है, उनकी बेहतर ट्रेनिंग भी सुनिश्चित करनी है।”

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *