Election dates announced in 5 states : सात चरणों में होंगे पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव, 10 मार्च को आएंगे नतीजें, जानें किस राज्य में कब है मतदान

नई दिल्‍ली। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को पांच राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों का एलान किया। मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त का कहना है कि सुशील चंद्र ने कहा कि इस बार आयोग ने तीन लक्ष्यों पर काम किया है। ये लक्ष्‍य हैं आसान और कोविड सेफ चुनाव के साथ साथ मतदाताओं की ज्यादा से ज्यादा से ज्‍यादा भागीदारी।

  • पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 14 फरवरी को एक चरण में मतदान

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा- पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 14 फरवरी को एक चरण में मतदान होगा जबकि मणिपुर में 27 फरवरी और तीन मार्च को दो चरणों में वोट डाले जाएंगे। 10 फरवरी को पहले चरण की वोटिंग होगी। पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 14 फरवरी को सिंगल फेज में वोटिंग, मणिपुर में 27 फरवरी और 3 मार्च को दो चरणों में वोटिंग, 10 मार्च को नतीजे। यूपी में 10 फरवरी, 14 फरवरी, 22 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा। 10 मार्च को नतीजे आएंगे।

  • 10 मार्च को पांचों राज्‍यों में मतगणना

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा- सभी 5 राज्यों के चुनाव कुल सात चरणों में पूरे होंगे। मणिपुर में दो चरणों में होगी वोटिंग। यूपी में 10 फरवरी को पहला फेज, 14 को दूसरा, 20 तीसरा, 23 चौथा फेज 27 मार्च को पांचवां, तीन मांर्च को छठा और सात मार्च को सातवें चरण का मतदान होगा। 10 मार्च को पांचों राज्‍यों में मतगणना होगी।

  • विजय जुलूस की भी इजाजत नहीं

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा- डोर-टु-डोर कैंपेन में भी अधिकतम पांच लोग ही शामिल हो सकेंगे। चुनाव प्रचार के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरह अनुपालन सुनिश्चित करना होगा। इसमें शामिल होने वाले लोगों के लिए कोरोना से बचाव के लिए मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था राजनीतिक दल ही करेंगे। मतगणना के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस की इजाजत नहीं होगी…

  • 15 जनवरी तक रोड शो, रैली, जुलूस की इजाजत नहीं

कोरोना की चुनौतियों पर मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा- यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चिराग जलता है। राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को हमारी सलाह है कि वे अपने चुनाव प्रचार कार्यक्रमों को डिजिटल मोड में ही चलाएं। 15 जनवरी तक कोई भी रोड शो, बाइक रैली, जुलूस या पद यात्रा की इजाजत नहीं होगी। यही नहीं 15 जनवरी तक कोई फीजिकल रैली भी नहीं आयोजित की जाएगी। बाद में डीटेल गाइडलाइंस जारी की जाएंगी।

-Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *