HindiInternationalNewsPolitics

ईरान में नए राष्ट्रपति का चुनाव 28 जून को निर्धारित

तेहरान, 27 मई : राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी की मृत्यु के बाद ईरान में नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए तारीख का ऐलान कर दिया गया है। नए राष्ट्रपति के चयन के लिए 28 जून को चुनाव निर्धारित किया गया है।

ईरान के चुनाव मुख्यालय ने राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के उत्तराधिकारी का चयन करने लिए 28 जून का समय निर्धारित किया है। इस चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का उपयोग किया जाएगा। श्री रईसी की 19 मई को एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो गयी थी।

राष्ट्रपति के चुनाव प्रक्रिया के अनुसार, इस पद के लिए 30 मई से 03 जून तक उम्मीदवार अपना नामांकन दाखिल कर सकते हैं। इसके बाद संवैधानिक परिषद चार से 10 जून तक नामाकंन पत्रों की जांच करेगी।

नामांकन पत्रों की जांच प्रक्रिया पूरी हाेने और चुनाव में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की अंतिम सूची 11 जून को जारी की जाएगी। चुनाव प्रचार 12 से 26 जून तक चलेगा और देश में राष्ट्रपति चुनाव 28 जून को होगा। ईरान के संविधान के अनुच्छेद 131 के तहत नए राष्ट्रपति का चुनाव 50 दिनों के भीतर कराने का नियम है. इस बीच सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह खामेनेई ने उपराष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर को कार्यकारी राष्ट्रपति के रूप में नियुक्त किया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, चुनाव मुख्यालय ने राजधानी तेहरान सहित कई जिलों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के साथ चुनाव कराने की तत्परता व्यक्त की है, हालांकि संवैधानिक परिषद का निर्णय अंतिम होगा।

ईरानी संविधान के अनुसार प्रथम उपराष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर ने ईरानी आध्यात्मिक नेता अयातुल्ला सैयद अली खामेनेई की मंजूरी मिलने के बाद कार्यवाहक राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभाला।

संविधान के अनुसार 50 दिनों के भीतर नए राष्ट्रपति के चुनाव की व्यवस्था करने के लिए संसद अध्यक्ष, न्यायपालिका प्रमुख और कार्यवाहक अध्यक्ष से मिलकर एक परिषद का गठन किया गया। इस दौरान, सांसद किसी भी मंत्री पर महाभियोग नहीं लगा सकते हैं या अविश्वास मत पारित नहीं कर सकते हैं।

ईरानी संसद अध्यक्ष मोहम्मद बाकर कलीबाफ, न्यायपालिका प्रमुख गुलाम हुसैन मोहसेनी इजेई और कार्यवाहक राष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर ने 28 जून को होने वाले आगामी राष्ट्रपति चुनाव की योजनाओं के लिए शनिवार को एक बैठक की। कार्यकारी, विधायी और न्यायिक प्रमुखों की बैठक ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के निधन के बाद सुचारू रूप से राष्ट्रपति चुनाव कराने की योजनाओं के इर्द-गिर्द रही।

बैठक में यह भी निर्णय लिया कि आंतरिक मंत्रालय और संवैधानिक परिषद को आगामी चुनावों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के लिए आवश्यक व्यवस्था करनी चाहिए। गौरतलब है कि 19 मई को देश की उत्तर-पश्चिमी पहाड़ी जंगलों में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में राष्ट्रपति रईसी और उनके दल की मौत के बाद नए राष्ट्रपति का चुनाव जरुरी हो गया है।

हेलिकॉप्टर दुर्घटना में राष्ट्रपति रईसी, विदेश मंत्री अमीर अब्दुल्लाहियान, तबरेज अयातुल्ला के नेता मोहम्मद अली अल-ए-हाशम, पूर्वी अजरबैजान के गवर्नर मालेक रहमती, राष्ट्रपति की सुरक्षा टीम के कमांडर, दो पायलट और एक विमान चालक दल के सदस्य की मौत हो गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *