epass Jharkhand : रांची में ई-पास नहीं हो रहा जेनरेट, लोग परेशान

Insight Online News

रांची, 16 मई : झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के दौरान घर से बाइक और कार से बाहर निकलने के लिए रविवार से ई-पास अनिवार्य किया गया है। लेकिन जिला प्रशासन की ओर से जारी वेबसाइट खुल ही नहीं रही है। इस वजह से लोगों को पास बनाने में कई तरह की समस्या सामने आ रही है। कई प्रयास के बाद भी प्रक्रिया पूरी नहीं हो पा रही है। इस चक्कर में लोग परेशान हो रहे हैं।

इसस संबंध में रांची के डीटीओ प्रवीण प्रकाश ने बताया कि झारखंड में एक दिन में एक लाख से अधिक ई-पास बने हैं और वेबसाइट पर अधिक ट्रैफिक होने की वजह से फिलहाल वेबसाइट काम नहीं कर रहा होगा। उन्होंने बताया कि इस प्रकार की समस्या का समाधान डीटीओ के पास तो नहीं है। उन्होंने बताया कि एनआईसी इस प्रकार की समस्या को देखती है और उम्मीद है कि जल्द इसका समाधान हो जायेगा।

उल्लेखनीय है कि झारखंड में लॉकडाउन की सख्‍ती रविवार 16 मई से शुरू हो गयी है। आने-जाने के लिये ई पास अनिवार्य किया गया है। इस ध्यान में रखते हुए लोग धड़ाधड़ ई-पास बनवा रहे हैं। प्रशासन की ओर से दावा किया जा रहा है कि इस बार ई-पास बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया बेहद आसान और सरल रखी गई है।

सरकार के ई-पास से लोग परेशान

कोकर निवासी गुड्डू चौबे ने कहा कि सरकार को दूध ,सब्जी और राशन का सामान नहीं खरीदना पड़ता है। साथ ही अधिकारियों को भी दूध , सब्जी और राशन नहीं खरीदना पड़ता है। उनके नौकर यह काम करते हैं। इसलिए उन्हें यह पता नहीं है कि लोगों को ई पास से कितनी परेशानी हो रही है। शनिवार से ही ई- पास बनाने का प्रयास कर रहा हूं लेकिन ईपास नहीं बन पा रहा है अब पैदल ही सब्जी खरीदने के लिए घर से निकला हूं क्या करूं।

लालपुर के संटू वर्मा ने कहा कि ई-पास नहीं बनने के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दवा लेने जाना था। पुलिस पास मांगने लगी। वापस घर जाना पड़ रहा है। यह कैसी सरकार है । जिसे जनता से कोई लेना देना नहीं है ।कई सामाजिक संगठनों के लोग हैं जो कोरोना काल में लोगों का सहयोग कर रहे है। उन्हें भी ई पास से परेशानी हो रही है। इसके अलावा ऐसे कई लोग मिले जिन्हें किसी ना किसी काम से बाहर जाना था उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।किसी को सब्जी, दूध या राशन लाने जाना था। लेकिन पास चाहिए। पास बन नहीं रहा। किसी को ड्यूटी जाना है उसे भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है लोग मुख्य सड़कों को छोड़कर गली गली से होकर जाने के लिए विवश हो रहे हैं। सरकार की ओर से जारी किए गए वेबसाइट खुल ही नहीं रहा।

सरकार का आदेश का पालन कराने में जुटी पुलिस

सरकार का आदेश का पालन कराने के लिए पुलिसकर्मी सुबह से सड़कों पर उतरे हुए हैं और लोगों से पूछताछ कर रहे हैं और पास मांग रहे है। एक पुलिसकर्मी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि यह जनता को परेशान करने वाला ई-पास का नियम बनाया गया है ।पुलिस कर्मी क्या करें उनकी भी मजबूरी है। सरकार के गाइडलाइन का पालन हर हाल में कराना है। वरीय अधिकारियों का आदेश है। पुलिसकर्मी तो मजबूर है।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES