Evil move foiled in ayodhya : दीपोत्सव से पहले अयोध्या में पकड़े गए दो संदिग्ध अधर्मी

अयोध्‍या। दीपोत्सव से पहले रामनगरी में दो संदिग्धों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों व्यक्ति मुस्लिम हैं, जो साधुवेश में घूम रहे थे। इनको पुलिस ने पूराकलंदर के कर्मा चौराहा से हिरासत में लिए है। पकड़े गए संदिग्धों से पुलिस और खुफिया एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं। दोनों संदिग्ध सुल्तानपुर जिले के गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के दारजीपुर गांव निवासी बताए गए हैं। इनके नाम और पता की पुष्टि के लिए अयोध्या पुलिस ने सुल्तानपुर पुलिस से संपर्क साधा है।

हालांकि प्रारंभिक पूछताछ में दोनों ने बताया कि वे वर्षों से इसी वेश में घूम-घूम कर भिक्षा मांगते हैं। रामनगरी में इन दिनों दीपोत्सव की तैयारी जोरशोर से चल रही है। राज्यपाल, मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री सहित कई विदेशी मेहमान भी आयोजन का हिस्सा होंगे। इसे लेकर अयोध्या में सुरक्षा तंत्र हाई अलर्ट मोड पर है। इसी बीच संदिग्ध पकड़े जाने की सूचना से हड़कंप मच गया है। शनिवार रात अज्ञात युवक की तरफ से सूचना दी गयी कि कर्मा चौराहे पर दो संदिग्ध साधु घूम रहे हैं। इसकी सूचना के बाद देर रात पुलिस दोनों को पकड़ कर थाने ले आयी।

पूछताछ में दोनों ने अपना पता दरजीपुर गांव निवासी सूदधू व मोहर्रम बताया, जो दो दिन पूर्व सुरजी विरवा गांव निवासी अजय यादव के घर पर आकर रुके थे। फिलहाल पुलिस उनकी बातों पर विश्वास करने के बजाय उनके आने जाने के स्थलों व उनके स्वजनों के बारे में जानकारी जुटा रही है। प्रभारी निरीक्षक विजयसेन सिंह ने बताया कि पकड़े गए दोनों व्यक्ति अपने को भिक्षावृत्ति से जुड़ा बता रहे हैं। उनका कहना है कि उनके गांव में कई परिवार ऐसा कर के जीवन यापन कर रहे हैं। सत्यापन होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *