Fr. Stan Swamy worked for down trodden : राँची महाधर्मप्रांत ने स्टेन स्वामी के लिए विशेष मिस्सा-पूजा की

Insight Online News

आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो एस.जे. ने आज संत मरिया महागिरजा, राँची में फ़ादर स्टेन स्वामी के लिए रिक्विम मिस्सा चढ़ायी, जिनकी मृत्यु 5 जुलाई 2021 जेल में हुई थी. 10 जुलाई को आयोजित सामूहिक और ऑनलाइन प्रसारण में बिशप थेओदोर मस्कारेन्हास, राँची के सहायक बिशप, बिशप विन्सेंट बरवा, सिमडेगा धर्मप्रांत, तीन प्रान्त के येसु समाजी पुरोहितों ने इसमें भाग लिया. कोविड प्रतिबंधों को देखते हुए कुछ युवावों और धर्म समाजी बहनों ने इस मिस्सा में प्रतिनिधित्वा किया.

Arch_2_1

जमशेदपुर धर्मप्रांत के फ़ादर जैरी कुट्टीना एस. जे. ने स्टेन स्वामी का परिचय दिया और कहा कि वे एक ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने आदिवासियों के लिए जीवन जीया, उनके हक़ के लिए लड़ाई लड़ी, और उन्हीं के लिए मर गए. फ़ादर स्टेन ने वादा किया था कि उनकी लड़ाई जारी रहेगी. फ़ादर अजीत खेस्स एसजे ने सुसमाचार पढ़ा और फ़ादर संतोष मिंज एसजे ने धन्यवाद के शब्द बोले.

बिशप थेओदोर मस्कारेन्हास ने अपने प्रवचन में कहा कि जिस तरह याकूब ने आज के पहले पाठ में अपने लोगों को एक साथ लाना चाहते थे. उन्होंने कहा कि हम फ़ादर स्टेन के लिए शोक नहीं करते हैं बल्कि उसके जीवन के लिए आनंदित हैं क्योंकि उन्होंने अपना जीवन आदिवासियों, गरीबों, एवं जो हसिय पर हैं उनके लिए समर्पित किया था. वह बहुतों को प्यार करता था और उनसे नफरत करता था जो गरीबों को प्रताड़ित और उन्हें सताया करते थे और उनके जरूरतों को पूरा करने से इनकार करते थे.

जूलियो रिबेरो के एक लेख का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यूएपीए के तहत मुकदमा चलाने वाले मामलों में से केवल 2 प्रतिशत मामले आज तक समाप्त हुए हैं. सरकार स्पष्ट रूप से दोषियों के बारे में चिंतित नहीं है. इनकी रूचि इसमें है कि अभियुक्तों को वर्षों तक जेल में रखा जाए इस प्रकार वे ऐसे लोगों के विरोध को रोक सके और गरीबों के अधिकारों और जीविका को चुरा सकें. बिशप ने आपील की कि उन सभी आरोपियों को तत्काल रिहा किया जाना चाहिए जब तक सरकार निर्णायक रूप से उनका अपराध साबित करने में सक्षम न हो जाए.

मिस्सा के बाद आर्चबिशप फेलिक्स, बिशप विन्सेंट, बिशप थेओदोर, फ़ादर जेरी, फ़ादर अजीत व फ़ादर संतोष ने श्री कुलदीप तिर्की और युवाओं के साथ पहले महागिरजा द्वार के बाहर और फिर बस स्टैंड के पास चुनवाटोली बस्ती में 150 से अधिक गरीब लोगों को नाश्ते के पैकेट वितरित किये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *