GST Council Meet : चिकित्सा उपकरणों पर जीएसटी में कमी संभव, 40 उत्पादों पर दरें 18% से घटाकर 12% करने का हो सकता है ऐलान

Insight Online News

इस महीने यानी 28 मई को होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में सैनेटाइजर, आइस बैग और मेडिकल वेस्ट डिस्पोजेबल बैग समेत 40 उत्पादों पर जीएसटी की दरें 18 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी करने का ऐलान हो सकता है। कारोबारियों ने सरकार ने इन उत्पादों पर जीएसटी घटाकर जीरो न करने की मांग की है। हिंदुस्तान को मिली जानकारी के मुताबिक सरकार इन मांगों पर विचार करते हुए जीएसटी काउंसिल की बैठक में चर्चा के बाद बड़ा फैसला ले सकती है।

ये बैठक शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होनी है। बैठक से पहले ही एसोसिएशन ऑफ इंडियन मेडिकल डिवाइस इंडस्ट्री ने सरकार को चिट्ठी लिखकर अपनी मांगों की लिस्ट सौंपी है। जानकारी के मुताबिक इस लिस्ट में 40 आइटम का जिक्र किया गया है। उद्योग जगत की मांग है कि इन सभी पर सरकार जीएसटी 18 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी कर दे। इन उत्पादों में थर्मामीटर, बेड, एक्स-रे ट्यू्ब्स, पीपीई किट भी शामिल हैं।

विलासिता के सामान नहीं इसलिए घटे टैक्स

एसोसिएशन के कोऑर्डिनेटर राजीव नाथ ने बताया कि ये सभी उत्पाद लग्जरी श्रेणी में नहीं आते हैं ऐसे में सरकार को इन पर टैक्स घटा देना चाहिए। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इन उत्पादों पर जीएसटी शून्य कतई नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि इससे उत्पादकों को कच्चे माल पर चुकाए गए जीएसटी का इनपुट टैक्स क्रेडिट नहीं मिलेगा।

जीएसटी शून्य करने से नुकसान होगा
उनके मुताबिक जीएसटी जीरो करने के फैसले से न सिर्फ कारोबारियों को नुकसान होगा बल्कि इस क्षेत्र में मिशन मेक इन इंडिया को भी धक्का पहुंचेगा। इनपुट टैक्स न मिलने पर कारोबारियों की लागत बढ़ जाएगी और उनको उत्पादों के दाम बढ़ाने पड़ेंगे जिससे वैश्विक बाजारों में भारतीय उत्पादों के दाम बढ़ जाएंगे और उनकी बिक्री घटनी शुरू हो सकती है।

उद्योगजगत की मांग पर हो रहा विचार
वित्त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक सरकार उद्योगजगत की मांगों पर विचार कर रही है। जानकारी के मुताबिक पिछले हफ्ते जीएसटी की फिटमेंट कमेटी की बैठक हुई थी जिसमें अधिकारियों ने अलग अलग उत्पादों पर टैक्स घटाने से होने वाले असर का आंकलन किया है। ये आंकलन जीएसटी काउंसिल की बैठक में पेश किया जाएगा और उसी आधार पर नई दरों को लेकर फैसला किया जाएगा।

Courtesy : Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *