HEC Ranchi : नो वर्क नो पे के तहत स्थायी और अस्थायी कर्मचारियों की सूची तैयार कर रहा है एचईसी प्रबंधन, हड़ताली कर्मियों पर गिरेगी गाज

Insight Online News

रांची। एचईसी प्रशासन की ओर से हड़ताल पर गए कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की तैयारी शुरू कर दी गई है। नो वर्क नो पे के तहत एचईसी प्रबंधन उन स्थायी और अस्थायी कर्मचारियों की सूची तैयार कर रहा है, जो काम पर नहीं हैं। सूची के आधार पर कर्मचारियों के खिलाफ काम नहीं तो वेतन नहीं की तर्ज पर कार्रवाई होगी।

एचईसी प्रबंधन कर्मचारियों के वेतन भुगतान के लिए राशि एकत्र करने को लेकर बकाएदार पर पैसे देने के लिए दबाव बनाने लगा है। इधर, दिल्ली में भारी उद्योग मंत्रालय में एचईसी के मुद्दे पर गुरुवार को हुई बैठक में शामिल होने के बाद कंपनी के तीनों निदेशक एमके सक्सेना, ए पांडा और राणा एस चक्रवर्ती वापस नहीं लौटे हैं।

आंदोलन 16 वें दिन भी जारी रहा: एचईसी कर्मचारियों का आंदोलन शुक्रवार को 16वें दिन भी जारी रहा, जिस वजह से तीनों प्लांट में उत्पादन ठप है। कर्मचारी एचएमबीपी, एफएफपी और एचएमटीपी प्लांट पहुंचे। वहां पर उपस्थिति दर्ज कर प्रदर्शन स्थल पर एकत्र हुए और नारेबाजी की। कर्मचारियों का कहना है कि भारी उद्योग मंत्रालय ने भी प्रबंधन को अपने संसाधन से बकाया वेतन भुगतान करने को कहा है। भारी उद्योग मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने भी ट्वीट कर कहा है कि एचईसी प्रबंधन कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करे।

कर्मचारियों का कहना है कि अब एचईसी प्रबंधन के तीनों डायरेक्टर दिल्ली से लौटने के बाद वेतन को लेकर स्थिति स्पष्ट करें। बकाया वेतन मिलने के बाद ही कर्मचारी काम पर लौटेंगे। कर्मचारियों का कहना है कि जब वे प्लांट में उत्पादन कर रहे थे, तब प्रबंधन ने वेतन नहीं दिया। इसके लिए प्रबंधन के आला अफसर भी दोषी हैं। उन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। हड़ताली कर्मचारियों पर अगर प्रबंधन कार्रवाई करता है, तो कर्मचारी उस समय तक आंदोलन को जारी रखेंगे, जबतक सात माह का बकाया वेतन एक साथ नहीं मिल जाता है।

  • केंद्रीय उद्योग मंत्री से भेंट करने पहुंचे श्रमिक नेता को मिला भरोसा

एचईसी के आंदोलनरत कर्मचारियों को बकाया वेतन का भुगतान करने को लेकर शुक्रवार को श्रमिक नेता राणा संग्राम सिंह ने भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय से उनके दिल्ली स्थित आवास में मुलाकात की। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने बताया कि उन्होंने उद्योग सचिव को कर्मचारियों के लिए कम से कम छह माह के वेतन की व्यवस्था कर भुगतान करने का निर्देश दिया है। श्रमिक नेता राणा संग्राम सिंह सोमवार को एचइसी के एचएमबीपी गेट पर कामगारों को संबोधित करेंगे। केंद्रीय उद्योग मंत्री से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधियों में लीलाधर सिंह, कर्ण सिंह राठौड़ समेत अन्य शामिल थे।

  • एचईसी के मुद्दे पर केंद्रीय कैबिनेट सचिव से मिले सेठ

रांची के सांसद संजय़ सेठ ने एचईसी के मुद्दे पर शुक्रवार की शाम केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा से नई दिल्ली में मिले। केंद्रीय कैबिनेट सचिव से उन्होंने एचईसी के मजदूरों का दुख-दर्द बताते हुए उनकी समस्याओं के निराकरण का आग्रह किया। सांसद का कहना है कि राजीव गौबा से उनकी बातें बहुत सकारात्मक रही। ऐसा प्रतीत होता है कि एचईसी को लेकर जरूर कुछ न कुछ अच्छी बातें केंद्र सरकार के स्तर से होकर आएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *