Hemant Government opposed the amendment in IAS Rules ​: आईएएस रुल्स में संशोधन को लेकर हेमंत सोरेन ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

बिना एनओसी के ऑफिसर की केंद्रीय प्रतिनियुक्ति उचित नहीं : सीएम

Insight Online News

रांची : झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने केंद्र सरकार की ओर से प्रस्तावित आईएएस संवर्ग नियमों में संशोधनों का विरोध किया है। सीएम सोरेन इस पर आपत्ति जताई है। उन्होंने इस संबंध में पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। उन्होंने लिखा है कि नए प्रस्तावित नियमों के मुताबिक केंद्र सरकार बिना बिना राज्य सरकार से एनओसी लिए ऑफिसर की सहमति से उन्हें केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बुला सकती है।

सीएम ने कहा है कि यह उचित कदम नहीं होगा। एक तो पहले से ही राज्यों में अखिल भारतीय स्तर के अधिकारियों की कमी होती है। मात्र तीन कैटेगरी आईएएस, IPS और IFS के अधिकारी राज्यों को मिलते हैं। वो भी तय संख्या के मुताबिक नहीं। अगर केंद्र सरकार इन्हें भी अपनी इच्छानुसार राज्य से हंटा देगी तो राज्य की योजनाएं प्रभावित होगी।

स्थाई कोर कैडर बनाने पर विचार करे केंद्र सरकार

उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि केंद्र की भी लगभ सभी योजनाएं राज्य के माध्यम से ही लागू होती हैं। राज्य की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का जिम्मा भी इन्हीं अधिकारियों के ऊपर होता है। जरूरी नहीं की राज्य और केंद्र में एक ही पार्टी या विचारधारा की सरकार हो। केंद्र सरकार का यह कदम संघीय व्यवस्था के खिलाफ होगा। उन्होंने कहा है कि केंद्र अपने लिए ऐसे अधिकारियों का एक स्थायी कोर कैडर बनाने पर विचार करे।

पहले ही अधिकारियों की किल्लत से जूझ रहा है झारखंड

झारखंड जैसे छोटे संवर्गों में अधिकारियों की भारी कमी है। आज की स्थिति में राज्य में केवल 140 आईएएस अधिकारी (65%) कार्यरत हैं, जबकि 149 की स्वीकृत संख्या के विरुद्ध झारखंड में भारतीय वन सेवा संवर्ग की स्थिति बेहतर नहीं है। अधिकारी एक से अधिक प्रभार संभाल रहे हैं और अधिकारियों की इस भारी कमी के कारण प्रशासनिक कार्य प्रभावित हो रहा है।

अधिकारी व उसके परिवार पर बुरा असर डालेगा यह निर्णय

सीएम ने अपने पत्र में कहा है कि किसी अधिकारी की उसके संवर्ग के बाहर अचानक प्रतिनियुक्ति निश्चित रूप से अधिकारी और उसके परिवार के लिए भारी अशांति का कारण बनेगी। यह उनके बच्चों की शिक्षा में बाधा भी डालेगा। यह निश्चित रूप से अधिकारी को डिमोटिवेट करेगा. उसका मनोबल कम करेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.