Hero Of Unfolding The Fodder Scam: अमित खरे बहुचर्चित चारा घोटाले उजागर के सूत्रधार बने प्रधानमंत्री के सलाहकार

रोशी की रिपोर्ट

क्या झारखंड के भ्रष्ट राजनीतिज्ञों और भ्रष्ट पदाधिकारियों पर निकट भविष्य में गिरेगी गाज!

बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले के उजागर करने वाले सूत्रधार झारखंड कैडर के रिटायर्ड आईएएस अमित खरे बने प्रधानमंत्री के सलाहकार। अमित खरे कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी के लिए जाने जानेवाले पदाधिकारी हैं। झारखंड में भी इनकी सेवाएं रही हैं और झारखंड के बड़े राजनीतिक लोगों और झारखंड में पदस्थापित आईएएस-आईपीएस पदाधिकारियों की भी कुंडली के जानकार हैं।

क्या प्रधानमंत्री की पैनी नजर झारखंड पर हैं जहां बहुत सारे विभागों में पदाधिकारियों की लूट मची है जैसा जानकार सूत्र बोलते हैं। क्या प्रधानमंत्री अमित खरे के माध्यम से तरह-तरह की लूट पर अंकुश लगा पायेंगे और तथाकथित भ्रष्ट राजनीतिज्ञों तथा भ्रष्ट पदाधिकारियों को उनकी औकात पर पहुंचा पायेंगे।

अमित खरे आज के प्रसंग में भी बहुचर्चित हैं चूंकि चारा घोटाले के मुख्य आरोपी लालू प्रसाद यादव अभी तक अपने दाग से मुक्त नहीं हो पाये हैं। राजनीति में कद कितना भी बड़ा हो जाये लेकिन कलंक और दाग पीछा नहीं छोड़ता है और इसी के लिए अमित खरे काफी सम्मानजनक पदाधिकारी माने जाते हैं। झारखंड निर्माण के बाद ही बहुत से खेल होते रहे कोयला घोटाला, मधुकोड़ा घोटाला, आरके आनंद और बंधु तिर्की का खेल घोटाला और ये सब घोटाले झारखंड की प्रगति के लिए हमेशा बाधक रहे हैं।

यदि प्रधानमंत्री अमित खरे का उपयोग कर सुनिश्चित करें कि पुनः ऐसे या किसी प्रकार के घोटालों की पुनरावृति न हो तो झारखंड को एक नया जीवन प्रदान करेंगे।

हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय का एक निर्णय आया है कि सीबीआई बिना कोर्ट के आदेश के भी भ्रष्ट लोगों पर शिकंजा कस सकता है। इस निर्णय के बाद भी यदि भ्रष्टाचार करने वाले और आर्थिक नुकसान पहुँचाने वाले नहीं चेतते हैं तो पूरे देश में एक मजबूत कानून बनाना होगा जो इनकी व्यवस्था ठीक कर सके। आशा की जाती है कि प्रधानमंत्री की यह दूर की कौड़ी कारगर होगी।

भ्रष्टाचार और लूट के कुछ अंश और टूकड़े जगह-जगह बिखरे हैं जिसमें झारखंड के कुछ स्वार्थी और लोभी प्रत्रकारों के हिस्से में भी आते हैं जो जग जाहिर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *