HOMAGE TO MOTHER TERESA : मदर तेरेसा के प्रेरणा दिवस पर रांची महाधर्मप्रांत ने मदर तेरेसा के नाम पर गरीबों के बीच राशन वितरण किया

Insight Online News

रांची, 10 सितम्बर 2021 : मदर तेरेसा भारत में लोरेटो धर्मसमाज की एक धर्मबहन थी। 10 सितम्बर 1946 को दार्जिलिंग की एक रेल यात्र में, उन्हें ईश्वर की आवाज सुनाई दिया कि ईश्वर उन्हें कलकत्ता की झुग्गि-झोपड़ियों में रहने वाले गरीबों में से सबसे गरीब लोगों की सेवा करने के लिए बुला रहा है।

उसने लोरेटो धर्मबहनों को छोड़ दिया और अपना खुद का एक धर्मसमाज – मिशनरी ऑफ चौरिटी बनाया। दान-पुण्य और करूणा के इतिहास के बदलते इस खेल के अनुभव की 75वीं वर्षगांठ पर, आज रांची महाधर्मप्रांत ने रांची से लगभग 30 किलोमीटर दूर इटकी के कुंडी गांव में 250 से अधिक परिवारों को 15 दिन का खाद्य राशन वितरित किया।

लोगों ने कृतज्ञतापूर्वक चावल, दाल, चना, सोयाबीन और खाना पकाने के तेल से युक्त राशन पैकेट स्वीकार किये। जैसे ही राशन वितरण स्थल पर 250 से अधिक पैकटों से लदा हुआ ट्रक पहुंचा, लोगों ने बड़े जोश के साथ खाजूर की पत्ते लहराकर, गायन और नृत्य के साथ स्वागत किया। वितरण में श्री कुलदीप तिर्की ने युवाओं का नेतृत्व किया और सिस्टर सेबेस्टिनो ने मदर टेरेसा सिस्टर्स का नेतृत्व किया।

बिशप थियोडोर मस्कारेन स.एफ.एक्स ने उपस्थित लोगों को समझाया कि यह वितरण संभव हो पाया क्योंकि लाभार्थियों और शुभचिंतकों ने गरीबों की मदद के लिए उदारता से अपनी बचत को दान कर दिया ।

उन्होंने लोगों से उपकारकों एवं शुभचिंतकों के लिए प्रार्थना करने का अनुरोध किया। महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो एस.जे. ने राशन और वहाँ आमंत्रित लोगों के लिए ईश्वर से प्रार्थना की और लोगों से चाहे वे भगवान को किसी भी नाम से पुकारते हैं प्रार्थना करने के लिए आमंत्रित किया। फादर सुशील टोप्पो और अशीत टोप्पो ने भी राशन वितरण में सहायता की जो किसी जाति, धर्म या सम्प्रदाय के अनुसार नहीं था। राशन सभी गरीबों एवं जरूरत लोगों के बीच वितरण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *