हाईकोर्ट में हाजिर हुए पश्चिम बंगाल के गृह सचिव, फॉरेंसिक विभाग में जल्द नियुक्ति का सख्त आदेश

कोलकाता, 27 सितंबर । पश्चिम बंगाल के गृह सचिव हरि कृष्ण द्विवेदी मंगलवार को हाई कोर्ट में हाजिर हुए हैं। एक मामले में कोर्ट के आदेश के बावजूद राज्य फॉरेंसिक विभाग की ओर से समय पर रिपोर्ट नहीं दी गई थी। इस मामले में राज्य की ओर से बताया गया था कि फॉरेंसिक डिपार्टमेंट में कर्मचारियों की कमी के वजह से समय पर रिपोर्ट नहीं दी गई है। इसी मामले में न्यायमूर्ति जयमाल्य बागची की खंडपीठ ने गृह सचिव को हाजिर होने को कहा था। उसी के मुताबिक मंगलवार को वह हाजिर हुए थे।

कोर्ट ने उनसे पूछा कि न्यायालय के आदेश के बावजूद फॉरेंसिक रिपोर्ट जमा नहीं करने की वजह से उनके खिलाफ कोर्ट की अवमानना का मामला बनता है। इसमें क्या कुछ किया जाए। इसके जवाब में हरी कृष्ण द्विवेदी ने बताया कि कर्मचारियों की कमी थी। इसे जल्द दुरुस्त कर लिया जाएगा। इसके बाद कोर्ट ने आदेश दिया कि दुर्गा पूजा यानी पंचमी से पहले फॉरेंसिक विभाग में 17 कर्मचारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू कर देनी होगी। कोर्ट ने यह भी कहा कि आज ही पब्लिक सर्विस कमीशन के चेयरमैन से बात कर लेनी होगी। 30 सितंबर तक नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होगी या नहीं इस बारे में भी हाईकोर्ट को बता देना है।

दरअसल एनडीपीएस के एक मामले में हाईकोर्ट ने राज्य फॉरेंसिक विभाग से रिपोर्ट मांगी थी लेकिन समय पर रिपोर्ट नहीं मिली। इसे लेकर हाईकोर्ट को राज्य सरकार ने बताया कि फोरेंसिक विभाग में कर्मचारियों की कमी है। कुल 17 पदों पर नियुक्ति होनी है। इसी मामले में हाईकोर्ट ने जल्द से जल्द नियुक्ति का आदेश दिया है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *