स्वास्थ्य और खुशी बनाये रखने के लिए महत्वपूर्ण जानकारियां: डॉ. करिश्मा आहूजा

हर व्यक्ति के लिए दो चीजें सबसे जरूरी हैं, स्वास्थ्य और खुशी। शरीर के लिए स्वास्थ्य और मन व आत्मा के लिए खुशी। यहां कुछ ऐसे ही प्रभावशाली अभ्यास हैं, जिन्हें हम अपने स्वास्थ्य और खुशी में सुधार करने के लिए अपना सकते हैं। आइए जानते हैं आखिर क्या हैं वो 5 अभ्यास।

  • भोजन की शुद्धता

हमारे पूर्वजों ने भोजन से पहले भगवान को भोजन की पेशकश करने की सिफारिश की थी। प्रार्थना, बर्तन की सफाई, भोजन की स्वच्छता और पाक शुद्धि बेहद जरूरी है, क्योंकि खाने की शुद्धता का संबंध हमारे मन से भी है। खाना पकाने की प्रक्रिया की शुद्धता सुनिश्चित करना संभव नहीं है, क्योंकि हम नहीं जानते कि भोजन तैयार करने वाले व्यक्ति के दिमाग में क्या विचार आते हैं।

इसलिए प्रार्थना के रूप में भोजन मिलने की कृतज्ञता ब्रह्मांड को प्रकट करना हमारे लिए जरूरी है, ताकि भोजन में जो भी अशुद्धियां हों, हमारे मन को प्रभावित न करें। चूंकि भगवान अग्नि के रूप में हैं, तो पाचन तंत्रमें उपस्थित अग्नि उन अशुद्धियों के साथ भोजन को पचाने में मदद करती है। इसलिए अगर भोजन में अशुद्धियां आ जाती हैं, तो भी आदमी प्रभावित नहीं होगा।

  • ध्यान करें

ध्यान एक शक्तिशाली अभ्यास है, जो आपके मन को नकारात्मक या तनावपूर्ण विचारों से मुक्त करके आराम करने के लिए प्रशिक्षित करता है। यह न केवल आपके मन को साफ करता है, बल्कि शांत होने की भावना को भी बढ़ावा है।

जब आप ध्यान करते हैं, तो आप अपनी संज्ञानात्मक और रचनात्मक सोच के कौशल को भी बढ़ाते हैं, जो आपको अपने व्यवहार और कार्यों में अत्यधिक कुशल बनाते हैं। इस प्रकार, अन्य बुरी आदतों में लिप्त होने का प्रलोभन काफी कम हो जाता है। इस प्रकार ध्यान हमें स्वस्थ रखता है और हमारे दैनिक जीवन के हर पहलू में हमारे प्रदर्शन को बेहतर *बनाता है।

  • डर पर काबू पाएं

डर एक नकारात्मक भाव है, जो हमें खुशी और शांति से अपना जीवन जीने से रोकता है। हालांकि संदेह का अनुभव किए बिना जीवन जीना असंभव है। लेकिन, डर पर काबू पाना एक अहम कदम है, जो हमारे जीवन को सही दिशा में ले जाएगा।

हमारे जीवन को भय से मुक्त करने के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम यह है कि हर परिस्थिति को एक सीखने की प्रक्रिया के रूप में अपनाएं और अपने भविष्य के बारे में सभी विचारों और संदेहों को ब्रह्मांड की शक्तियों के हवाले कर दें। विश्वास रखें ब्रह्मांड की शक्तियां आपका ख्याल रखेंगी और वह आपको उसी ओर प्रेरित करेंगी, जो आपके लिएसही दिशा होगी।

  • हर किसी को माफ करें

जब हम मन में किसी चोट और घृणा को पकड़ते हैं, तो हम भावनात्मक रूप से ऊब जाते हैं, मानसिक रूप से परेशान होते हैं, शारीरिक रूप से कमजोर होते हैं और हमारे काम और रिश्ते प्रभावित होते हैं। ‘क्षमा’ इसके लिए मजबूत औषधि है। जब अतीत आपको चोट पहुंचाना शुरू करता है, तो गहरे घावों को भरने के लिए माफी से ज्यादा प्रभावी कुछ भी नहीं है।

हमेशा खुद को याद दिलाएं कि आपको अपने समेत हर किसी को माफ करने की जरूरत है। आप जिस व्यक्ति को क्षमा करना चाहते हैं, उसके बारे में सोच कर ‘मैं आपको माफ करता हूं ‘ शब्दों को मजबूत इरादे से दोहराएं।

  • आभारी रहें

आभार एक शक्तिशाली अभ्यास है, जो हमारे जीवन में भारी बदलाव लाता है। एक सकारात्मक और आभारी रवैया व्यक्तिगत और व्यावसायिक विकास के अवसरों को खोल देता है।

कृतज्ञता का नियमित अभ्यास विषाक्त भावनाओं को कम करके एक मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य को बढ़ाता है, जिससे हमारी खुशी के स्तर में वृद्धि होती है। हमारे आसपास की चीजों की सराहना करना और अपने जीवन की सकारात्मक बातों को गिनने के दृष्टिकोण को अपनाना, हमें मजबूत, समझदार और स्वस्थ बनाता है।

(लेखक : लॉ ऑफ अट्रैक्शन, हो’ओपोनोपोनो विशेषज्ञ)

साभार : हिंदुस्तान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *